गोंडा: केस एक- कोतवाली देहात थाना क्षेत्र के नरायनपुर गांव में बुजुर्ग लालमणि की हत्या कर दी गई। इस मामले में आपसी विवाद निकलकर सामने आया। जिसमें पुलिस ने मृतक के भाई को ही गिरफ्तार किया है। आरोप है कि आपसी विवाद के कारण वारदात को अंजाम दिया गया।

केस दो- मनकापुर कोतवाली के अशरफपुर के गोसाईपुरवा में विवाहिता किरन गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पिता केशव गिरि का आरोप है कि सुसरालीजनों ने दहेज को लेकर हुए विवाद में उसकी हत्या कर दी है। हालांकि इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

हाल के दिनों में कई मामले ऐसे आए हैं, जिसमें मामूली बात को लेकर पति पत्नी, भाई-भाई, माता-पिता के रिश्तों में खटास आ रही है। यह देखकर पुलिस चितित है। उसके माथे की सिकन बढ़ रही है। ऐसे में इन विवादों पर नियंत्रण को लेकर अब एक नई पहल की गई है। कुटुंब को मजबूत करने के लिए पुलिस ने मास्टर प्लान तैयार किया है। जिसमें अगर कोई इस तरह का मामला आता है तो संबंधित मामले पुलिस कर्मी परिवारजन की काउंसिलिग करेंगे। उन्हें आपसी रिश्तों के बारे में बताएंगे। इसके लिए मनोवैज्ञानिक की सलाह दिलाई जाएगी। इसकी मानीटरिग खुद विभागीय अधिकारी करेंगे।

किस तरह की है योजना

- अगर परिवार के किसी सदस्य द्वारा इस तरह का कोई मामला आता है तो पुलिस कर्मी सबसे पहले परिवार के सदस्यों से बात करेंगे। बातचीत के जरिए मामले का निस्तारण कराने का प्रयास किया जाएगा। गांव में गठित एस टेन के सदस्यों के मदद ली जाएगी। एस टेन में गांव के शिक्षक, प्रधान व अन्य सदस्यों को शामिल किया गया है। बात न सुलझने पर संबंधित थानाध्यक्ष के माध्यम से उसमें कार्रवाई की जाएगी

जिम्मेदार के बोल

- आपसी रिश्तों की डोर की मजबूत करने के लिए पुलिस कार्य कर रही है। संबंधित थानों की पुलिस इस पर प्रभावी कार्रवाई कर रही है। लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

- डॉ. राकेश सिंह, डीआइजी देवीपाटन रेंज

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021