गोंडा: कोतवाली क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति ने पुलिस अधीक्षक से शिकायत की है। जिसमें कहा गया है कि छेड़खानी के मामले में सुलह के लिए आरोपित धमका रहे हैं। पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाया गया है।

एसपी को भेजे गए शपथ पत्र में कहा गया है कि बीते 26 जून को गांव के ही युवक ने उसकी बेटी से छेड़खानी की। उसके शोर मचाने पर गांव के लोगों ने पहुंचकर उसे बचाया। आरोप है कि पहले पुलिस ने इस मामले में मुकदमा तक नहीं दर्ज किया। काफी दौड़भाग करने पर उच्चाधिकारियों के निर्देश पर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज तो कर लिया लेकिन, कार्रवाई के नाम पर सन्नाटा है। अब आरोपित व उसके परिवार के लोग सुलह समझौता करने का दबाव बना रहे हैं। मना करने पर फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहे हैं। कोतवाल राजनाथ सिंह ने बताया कि मुकदमा दर्ज करके विवेचना की जा रही है। आरोपित द्वारा सुलह के लिये दबाव बनाने व धमकी देने का मामला संज्ञान में नही है। फिर भी यदि ऐसा है तो जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस