गोंडा, संवादसूत्र। कूटरचित दस्तावेज तैयार कर भूमि का बैनामा कराने व जानलेवा हमला सहित अन्य मामलों के आरोपित अधिवक्ता बृजेश कुमार अवस्थी को गिरफ्तार कर लिया गया है। डीआइजी उपेंद्र अग्रवाल ने गिरफ्तारी करने वाली टीम को 25 हजार रुपये नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है।

नगर कोतवाल राकेश कुमार सिंह ने बताया कि गत चार महीने में बृजेश अवस्थी के खिलाफ धोखाधड़ी का 18 मुकदमा लिखा गया है। आरोप है कि बृजेश ने कूट रचना कर फर्जी दस्तावेज तैयार कर भूमि का बैनामा कराया है। आरोपित के खिलाफ विभिन्न धाराओं में 30 मुकदमा दर्ज है। पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर ने भूमि बैनामा में फर्जीवाड़ा करने वाले आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए नगर कोतवाली पुलिस के साथ स्पेशल आपरेशन ग्रुप को लगाया था।

नगर कोतवाल ने बताया कि आरोपित बृजेश को लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तारी करने वाले प्रभारी निरीक्षक नगर कोतवाली राकेश कुमार सिंह व एसओजी प्रभारी संतोष कुमार सिंह की टीम को 25 हजार रुपये नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है। भूमि बैनामा में फर्जीवाड़ा के आरोपित बृजेश अवस्थी की गिरफ्तारी के बाद अन्य आरोपितों में हड़कंप मच गया है।

एसआइटी कर रही है जांच : कूटरचना कर भूमि का बैनामा कराने के मामले में गत चार माह में 32 मुकदमे लिखे गए हैं। भूमि बैनामा में किए गए फर्जीवाड़ा की जांच राज्य विशेष अनुसंधान दल (एसआइटी) कर रही है। डीआइजी के पत्र पर शासन ने जमीन बैनामा में किए गए फर्जीवाड़ा के दस मुकदमों की जांच एसआइटी को अभी दी गई।

एसआइटी की टीम ने निबंधक कार्यालय व नगर पालिका से भूमि बैनामा संबंधी अभिलेख एकत्र कर जांच शुरू कर दी है। टीम विभिन्न बिंदुओं की पड़ताल के लिए साक्ष्य एकत्र कर रही है। माना जा रहा है कि जल्द ही कई आरोपित पुलिस की गिरफ्त में होंगे। कई माननीय के नाम भी सामने आ सकते हैं। इतना ही नहीं फर्जीवाड़ा के मामले में निबंधक कार्यालय के तीन अधिकारी पर पूर्व में कार्रवाई भी हो चुकी है।

पीड़ितों को डरने की जरूरत नहीं : डीआइजी उपेंद्र अग्रवाल ने कहा कि किसी भी पीड़ित को डरने की जरूरत नहीं है। धोखाधड़ी कर यदि किसी की भूमि का बैनामा करा लिया गया है, या फिर हेराफेरी की गई है तो वह शिकायत करें। आरोपितों पर मुकदमा कराकर पीड़ितों को न्याय दिलाया जाएगा। यदि किसी भी पीड़ित को परेशान किए जाने की शिकायत मिलती है तो दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Vrinda Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट