संसू, गोंडा : शारदीय नवरात्र में गुरुवार को नवमी की शुभ बेला में यज्ञ हवन व कन्या भोज के साथ देवी दुर्गा की विदाई करने के लिए देवी मंदिरों व पूजा पंडालों में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा।

दुर्गा सप्तशती का पाठ, कन्या भोज व बाहर नगाड़े पर बज रहे बधाई संगीत से वातावरण भक्तिमय हो उठा। केंद्रीय दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष अरुण कुमार शुक्ल व महामंत्री राकेश वर्मा ने बताया कि शुक्रवार को परंपरागत ढंग से प्रतिमाओं का विसर्जन सागर तालाब और खैरा सरोवर में कराया जाएगा। घाटों पर सुरक्षा व प्रकाश की विशेष व्यवस्था की जा रही है।

खैरा मंदिर, मंशा देवी व स्टेशन रोड स्थित नूरामल आजाद भवानी मंदिर, मालवीय नगर के साईं मंदिर पर भी यज्ञ हवन के साथ भंडारा चल रहा है। इंद्रापुर- जैनगरा में कालीथान व चंटूबाबा साईं मंदिर में नवरात्र भर चले विशेष पूजन अर्चन का समापन प्रधान लल्लू पाठक की ओर से कन्या भोज व फलाहार से हुआ।

बस स्टेशन स्थित पंजाबी दुर्गा मंदिर में सप्ताह भर चले महिला संगीत भजन प्रवचन के उपलक्ष्य में कन्या भोज के साथ भंडारा का आयोजन हुआ। पुजारी शिवकुमार शास्त्री के संयोजन में हुए शतचंडी यज्ञ में नगर के सैकड़ों श्रद्धालु शामिल हुए। इमिलिया गुरदयाल स्थित गायत्री ज्ञान मंदिर में गायत्री जाप का हवन के साथ समापन किया गया।

संरक्षक जगदीश जायसवाल व प्रबंधक सुशील जायसवाल ने एक सौ आठ कन्याओं को भोजन कराया। दक्षिणा देकर स्वागत किया गया। सपा नेता सूरज सिंह ने रानी बाजार स्थित पंडाल में पहुंचकर मां दुर्गा का दर्शन-पूजन किया।

उन्होंने बताया कि नवरात्र में झंझरी ब्लाक, पंडरी व सदर के करीब 270 पूजा पंडालों में पहुंचकर पूजा-अर्चना की गई।

Edited By: Jagran