गोंडा: नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने सपा-बसपा गठबंधन पर सीधा हमला बोलते हुए कहा है कि यह गठबंधन सत्ता व स्वार्थ का है, नीतियों का नहीं। जिस दिन नेता की बात आएगी, उसी दिन गठबंधन में दरार पड़ जाएगी। अगर सपा के कार्यकर्ता से पूछा जाए कि बसपा के नेता को अपना नेता मानने को तैयार हो, जवाब मिलेगा नही, यहीं स्थिति बसपा की भी है। ऐसे में यह गठबंधन निजी महत्वाकांक्षा की पूर्ति के लिए किया गया है।

शहर के गांधी पार्क में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मंत्री ने कहा कि इन पार्टियों ने यह मान लिया है कि वह अकेले भाजपा का मुकाबला नहीं कर सकती है। जिन्हें कभी बात करना स्वीकार नहीं था, आज वह गले मिल रहे हैं। सिर्फ सत्ता हासिल करने के लिए भाजपा के डर से गठबंधन कर लिए हैं। कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने जब भी किसी से गठबंधन किया, उसकी नजर इसी पर रही कि कब उसे डाउन करना है। राहुल गांधी के चौंकाने वाले बयान पर उन्होंने कहा कि राहुल जब संसद में प्रधानमंत्री से मिले थे तब भी चौंकाया था। राहुल की हरकत की वजह से ही हम यहां पर है। साथ ही उन्होंने सरकार की उपलब्धियों का बखान किया। जिलाध्यक्ष भाजपा पीयूष मिश्र, पूर्व सांसद सत्यदेव ¨सह, विधायक पल्टूराम, विनय द्विवेदी, प्रेम नारायण पांडेय मौजूद थे।

Posted By: Jagran