जागरण संवाददाता, गाजीपुर : बुधवार की पूरी रात हुई झमाझम बारिश से ताल-तलैया भर गए, वहीं नगर सहित सभी सड़कों पर पानी लग गया। जलजमाव के कारण सुबह लोगों का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया। उधर, ग्रामीण क्षेत्रों लगातार हुई बारिश से किसानों की बांछें खिल उठी हैं। अन्नदाताओं ने धान की रोपाई शुरू कर दी।

बीते बुधवार की रात से गुरुवार की सुबह आठ बजे तक बारिश हुई। इससे शहर में कई स्थानों पर ड्रेनेज का इंतजाम न होने की वजह से लंका, स्टेशन, मिश्रबाजार, महुआबाग, चीतनाथ, नवाबगंज आदि मोहल्लों में जलजमाव हो गया जिससे लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। लंका बस स्टैंड एवं रोडवेज परिसर में कीचड़ हो गया। इससे आने वाले यात्री परेशान रहे। सबसे अधिक परेशानी स्टेशन से बड़ी बाग जाने वाले मार्ग पर हुई। ---- शेड से पानी गिरने से यात्री मुश्किल में

जमानियां : बारिश होते ही स्टेशनों पर रेलवे की व्यवस्था की पोल खुलकर सामने आ गई। दानापुर मंडल के स्थानीय स्टेशन सहित दिलदारनगर में यात्री शेड में जगह-जगह पानी गिरने लगा। इससे यात्रियों को प्रतीक्षालय का सहारा लेना पड़ा। यह स्थिति काफी दिन से है। यात्रियों की शिकायत के बाद भी जर्जर शेड को बदला नहीं जा रहा। कुछ यही हाल दिलदारनगर स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या तीन पर बने यात्री शेड का है। दिलदारनगर स्टेशन अधीक्षक नफीस खां ने बताया कि विभागीय उच्चाधिकारियों की इसकी जानकारी दी गयी है।

-----

खरबूज और तरबूज के किसान निराश

खानपुर : क्षेत्र में गंगा गोमती नदियों के किनारे तरबूज खरबूज की फसल उगाने वाले किसानों को बीते दो वर्षों से दोहरी मार झेलनी पड़ रही है। गंगा गोमती एकौझी गांगी नदियों के किनारे सैकड़ों एकड़ जमीन पर गर्मी के सीजन में तरबूज, खरबूज, करैला, ककड़ी और परवल इत्यादि की खेती की जाती है। इस फसल को तैयार करने के लिए किसान को कड़ी मेहनत भी करनी पड़ती है, लेकिन गत वर्ष की तरह इस बार भी किसानों की मेहनत पर पानी फिर गया।

----- वैक्सीनेशन के लिए पहुंचने वालों को परेशानी

भांवरकोल : न्यू पीएचसी सुखडेहरा के मुख्य गेट पर जलजमाव होने के कारण वैक्सीनेशन के लिए पहुंचने वाले लोगों को विशेषकर महिलाओं को विशेष परेशानी हो रही है। मुख्य गेट पर जलजमाव होने के कारण गेट के बगल में टूटी चहारदीवारी पर लगे कंटीले तार को फांदकर स्वास्थ्य केन्द्र के अंदर पहुंचना पड़ रहा है। चिकित्साधिकारी डा. अनिल कुमार पांडेय ने बताया कि इसकी जानकारी विभाग के उच्चाधिकारियों को दी जा चुकी है ।

----

गिरा विद्युत पोल, आपूर्ति बाधित

गहमर : तेज आंधी के साथ भारी बारिश होने के वजह से कामाख्या विद्युत उपकेंद्र से सप्लाई होने वाला 1100 हजार का विद्युत पोल हथौरी गांव के पास करहिया-गहमर नहर बाईपास मार्ग पर गिर गया। ऐसे मे करहिया, हथौरी सहित आधा दर्जन गांव की सप्लाई पूरी तरह से ठप हो गई है। आवागमन भी बाधित हो गया। अवर अभियंता विद्युत रामप्रवेश ने कहा कि गिरे विद्युत पोल को ठीक करने के लिए कर्मचारियों को भेजा जा रहा है, जल्द ही आपूर्ति बहाल करा दी जाएगी।

Edited By: Jagran