जागरण संवाददाता, गाजीपुर : जिले में कोरोना संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। जिला अस्पताल में बनाया गया 10 बेड का आईसीयू फुल हो गया है। अब गंभीर रूप से संक्रिमत मरीजों को सामान्य एल-2 वार्ड में आक्सीजन के सहारे रखा जा रहा है। एल-2 वार्ड में मरने वालों का सिलसिला तेज होता जा रहा है। शुक्रवार की रात दो मरीज इमरजेंसी में पहुंचते ही मर गए। इससे अस्पताल में दहशत का माहौल हो गया है।

जिला अस्पताल में 40 बेड का एल-2 वार्ड बनाया गया है। इसमें 10 बेड का आईसीयू भी शामिल है। गंभीर कोरोना संक्रमितों को यहां एल-2 वार्ड में भर्ती किया जा रहा है। अगर किसी की हालत और ज्यादा गंभीर हो रही है तो उसे आईसीयू में डाला जा रहा है। शनिवार की दोपहर तक एल-2 में 20 बेड भरे थे। आईसीयू के नौ बेड भरे थे और एक बेड को वीवीआईपी के लिए रिजर्व रखा गया था। इसके अलावा तीन और मरीजों को आईसीयू की आवश्यकता पड़ी तो मजबूरी में उन्हें सामान्य वार्ड में ही आक्सीजन लगाकर भर्ती करना पड़ा।

--- सहेड़ी में सौ बेड का एल-2 तैयार

- सहेड़ी स्थित होम्योपैथिक मेडिकल कालेज में सौ बेड का एल-2 स्वास्थ्य विभाग ने तैयार करवाया है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. उमेश कुमार ने बताया कि अगर जिला अस्पताल का एल-2 फुल हो जाएगा तो उसके बाद सहेड़ी में बने एल-2 अस्पताल में कोरोना मरीजों को भर्ती किया जाएगा, लेकिन यहां पर आईसीयू की सुविधा उपलब्ध नहीं है।

------ - जिला अस्पताल में बने कोरोना एल-2 वार्ड के सभी आईसीयू वार्ड फुल हो गए हैं। अब गंभीर कोरोना संक्रमितों को सामान्य बेड पर आक्सीजन के साथ भर्ती किया जा रहा है।

- डा. एसके मिश्रा, इंचार्ज- कोविड वार्ड जिला अस्पताल।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप