जागरण संवाददाता मुहम्मदाबाद (गाजीपुर) : मद्धेशिया वैश्य सभा की ओर से रविवार को संत गणिनाथ जन्मोत्सव समारोह का आयोजन यूसुफपुर मंडी समिति परिसर में किया गया। इस मौके पर नगर के शाह¨नदा हनुमान मंदिर से संत गणिनाथ की शोभा यात्रा निकाली गई। शोभा यात्रा मंदिर प्रांगण से शुरू होकर चौक, सदर रोड, तहसील, युसूफपुर बाजार, फाटक, गंज, नवापुरा मोड़, रेलवे स्टेशन होते मंडी परिसर में पहुंची। शोभा यात्रा में आगे आगे हाथी, घोड़ा व पीछे पीले वस्त्र धारण किये हुए बच्चे हाथ में कलश लिए चल रहे थे जो लोगों के बीच आकर्षण के केंद्र बने हुए थे। सबसे पीछे संत गणिनाथ की झांकी वाहन पर सजाई गई थी। मंडी समिति में विधि पूर्वक पूजन के पश्चात समारोह का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर आयोजित मेहंदी प्रतियोगिता के अलावा विभिन्न प्रतियोगिताओं में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वालीं समाज की बालिकाओं को सम्मानित किया गया। समारोह में मुख्य अतिथि मनोज कुमार गुप्ता ने कहा कि पहले समाज के राजनीतिक भागीदारी बढ़ानी होगी। कहा कि समय को पहचान कर संगठित होकर अपना हक लिया जाना चाहिए। उन्होंने समाज में व्याप्त कुरीतियों को दूर करने व बच्चों को शिक्षित करने पर जोर दिया। कार्यक्रम में नगर पालिका परिषद बलिया के पूर्व अध्यक्ष लक्ष्मण गुप्ता, पूर्व ब्लाक प्रमुख सुभाष चंद गुप्ता, कामता प्रसाद, भोला गुप्ता, सोनू मद्धेशिया, रमेश गुप्ता, जैनेश पंकज, श्रीराम गुप्ता, गणेश गुप्ता, सुरेंद्र गुप्ता, शिवानंद गुप्ता, जयप्रकाश गुप्ता, राजू गुप्ता, साधना गुप्ता, बबिता गुप्ता, दिनेश गुप्ता आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता कामता प्रसाद, संचालन प्रेमनाथ गुप्ता व आभार विनोद गुप्ता ने ज्ञापित किया। समाज को शक्तिशाली बनाने के लिए एकता जरूरी

भांवरकोल : मद्धेशिया समाज की ओर से शनिवार को मनिया मिर्जाबाद चट्टी के पास श्रीगणिनाथ पूजनोत्सव आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ पूजन के साथ हुआ। इस दौरान विशिष्ट लोगों को अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया गया। विचार गोष्ठी में मुख्य अतिथि रमाशंकर फौजी ने समाज में एकता और अनुशासन पर बल देते हुए कहा कि समाज को शक्तिशाली बनाने के लिए एकता बहुत जरूरी है। बिना अनुशासन एकता स्थाई नहीं रह सकती। अनुशासन में रहने से ही समाज का विकास होगा। इस तरह के समारोह से एकता को बल मिलता है। कार्यक्रम में अच्छे लाल गुप्ता, टीएन गुप्ता, गुड्डू गुप्ता, हरिशंकर गुप्ता, रामजी गुप्ता, भोला गुप्ता, सुरेश गुप्ता, अशोक गुप्ता, ईश्वर प्रसाद गुप्ता, गौतम गुप्ता, विजय बहादुर गुप्ता आदि थे। अध्यक्षता रामजी गुप्ता व संचालन प्रवीण गुप्ता ने किया। प्रेमचंद गुप्ता ने आभार ज्ञापित किया।

Posted By: Jagran