जासं, सैदपुर (गाजीपुर): मतदाता सत्यापन कार्य में लापरवाही बरतने वाले 22 बीएलओ का वेतन रोकने के लिए उपजिलाधिकारी डा. वेदप्रकाश मिश्र ने शुक्रवार को खंड शिक्षा अधिकारी को पत्र भेजा है। साथ ही शासन की मंशा के अनुरूप मतदाता सत्यापन कार्य में तेजी जाने का निर्देश दिया। वहीं उत्कृष्ट कार्य करने वाले बीएलओ अतुल कुमार सिंह, रत्नेश जायसवाल व सुविनचंद के कार्यों की सराहना की।

मतदाता पहचान पत्र से आधार कार्ड को लिक कराया जा रहा है। तहसील क्षेत्र में लगे बीएलओ को इस कार्य को शीघ्र व नियमानुसार पूरा करने के लिए तहसील में कई बार बैठक हुई। एसडीएम के साथ तहसीलदार दिनेश कुमार ने आवश्यक सुझाव दिए। मोबाइल एप के माध्यम से मतदाता सत्यापन कार्य का अवलोकन सुपरवाइजर धीरेंद्र सिंह द्वारा निरंतर किया जा रहा है। बीएलओ सरिता पांडेय, विनीता तिवारी, अमरेंद्र कुमार, रामजी सिंह यादव, अजय कुशवाहा, राजेश राम, सुजाजा देवी, उमेश यादव, विशाल यादव, अनिल कुमार विश्वकर्मा, राजकुमार, हसवंता देवी, उमा सिंह यादव, संतोष कुमार यादव, संजय कुमार, प्रेम कुमारी, रीता देवी, इंदुकला, सावित्री देवी, अवनीश सिंह, ममता यादव, प्रवीण त्रिपाठी को कई बार चेतावनी देने के बावजूद इनकी कार्यप्रणाली में सुधार नहीं हुआ। इसे देखते हुए एसडीएम ने इनका वेतन रोकने के लिए खंड शिक्षा अधिकारी को पत्र लिखा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप