जागरण संवाददाता, मुहम्मदाबाद (गाजीपुर) : तहसील में कई कर्मचारियों के पद रिक्त होने से काम में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। मजबूरी में दूसरे पटल के कर्मियों से किसी तरह काम चलाया जा रहा है। तहसील में उपजिलाधिकारी न्यायालय में जहां अलअहमद का पद रिक्त है वहीं उनके स्टेनों के रूप में राजस्व संग्रह विभाग का लिपिक व अर्दली के रूप में अनुसेवक को लगाया गया है। तहसीलदार न्यायालय में अलअहमद का पद रिक्त है वहीं पेशकार का कार्य राजस्व संग्रह विभाग के कर्मी के जिम्मे है।

अपर तहसीलदार व नायब तहसीलदार का एक पद लंबे समय से रिक्त पड़ा है। तहसील में सबसे जिम्मेदारी भरा नाजिर व नजारत मालबाबू का पद भी खाली है। दोनों पदों की जिम्मेदारी राजस्व विभाग के एक लिपिक ही संभाल रहा है। इसी तरह काम के दबाव के चलते विभिन्न पटलों पर बाहरी लोगों को रखकर काम लिया जा रहा है। इससे पटल का कार्य तो हो जा रहा है लेकिन तहसील कार्यालय की अधिकतर गोपनीयता भंग हो रही है। यही नहीं रिकार्ड में हेर-फेर होने का खतरा भी बना रह रहा है। अगर तहसील की कार्य प्रणाली में सुधार लाना है तो रिक्त पदों पर नियुक्ति करने व बाहरी लोगों के बजाए विभागीय से काम कराने पर जोर देना होगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप