जासं, खानपुर (गाजीपुर) : क्षेत्र के सिधौना बाजार में विश्व ¨हदी दिवस पर साहित्य प्रेमियों ने बैठक कर ¨हदी के प्रचार-प्रसार का संकल्प लिया। साहित्य अकादमी की ओर से मारीशस में ¨हदी पर व्याख्यान दे चुके सिधौना निवासी साहित्यकार डा. रामजी ¨सह बागी ने कहा कि ¨हदी को अंतरराष्ट्रीय भाषा के तौर पर पेश करने के लिए इस दिन को काफी नायाब तरीके से मनाया जाता है। विदेशों में भारतीय दूतावासों में कई कार्यक्रम भी आयोजित होते हैं। लेकिन दिन विशेष के बाद इसे अमल में नहीं लाया जाता। सार्वजनिक पुस्तकालय की मांग करते हुए एनआरआई दुर्गा प्रसाद मिश्र ने कहा कि पूरे विश्व में ¨हदी की प्रतिष्ठा है, लेकिन अपने ही देश में लोग इसे वरीयता नहीं देते हैं। इस मौके पर गीतकार विजय यादव, डा. जय यादव, अनिल पांडेय, प्रो. वीरेंद्र बहादुर ¨सह, शेषनाथ ¨सह, कमलेश यादव, कन्हैया त्यागी आदि थे।

Posted By: Jagran