जासं, बारा (गाजीपुर) : रसोई में और कुछ हो न हो, लेकिन आलू, प्याज व टमाटर तो होता ही है। आम आदमी बाजार जाने से पहले तैयार सूची में यह चीजें प्राथमिकता के साथ याद रखता है, लेकिन आज कल इन्हीं आवश्यक सब्जियों ने रसोई का बजट बिगाड़ कर रख दिया है। कुछ दिन तक तो केवल प्याज का भाव लोगों को परेशान कर रही था, लेकिन अब तो अन्य सब्जियों के दाम भी जेब पर डाका डाल रहे हैं।

सलाद का बादशाह कहा जाने वाला प्याज इन दिनों महंगाई की भेंट चढ़ गया है। स्थिति यह हो गई कि ग्रामीण क्षेत्रों के बाजारों में भी इसके दाम 50 रुपये प्रति किलो पार कर चुके हैं। इसके साथ-साथ भिडी, नेनुआ, लौकी, टमाटर, आलू के मूल्य में भी बेतहाशा वृद्धि हुई है। सब्जी दुकानदार अलाउद्दीन राइनी, अहद राइनी, शाकिर राइनी, बबलू राइनी ने बताया कि बाहर से ही महंगे दामों में प्याज व अन्य सब्जियां आ रही हैं। बारा गांव निवासी पूर्व प्रधान मंजूर खां, बब्बन चौधरी, बिदा चौधरी, जोगेंद्र चौधरी, रामजी, मोहन ने बताया कि जब किसानों के यहां सब्जी होती है तो सस्ती बिकती है जब हम लोगों के यहां नहीं है तब मुनाफाखोर सक्रिय होकर भाव चढ़ाने के साथ आम जनों के जेब पर डाका डालने का काम कर रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप