जासं, गाजीपुर : अयोध्या पर फैसले की घड़ी जैसे-जैसे नजदीक आ रही है वैसे- वैसे पुलिस प्रशासन की सक्रियता भी बढ़ती जा रही है। बीते एक सप्ताह से पूरे जिले में जगह-जगह पुलिस व प्रशासन के अधिकारी बैठक कर लोगों से शांतिपूर्वक सुप्रीम कोर्ट के फैसले को स्वीकार करने का आह्वान कर रहे हैं। इसी क्रम में गुरुवार को भी जिले के विभिन्न क्षेत्रों में पुलिस प्रशासन ने बैठक की।

मुहम्मदाबाद : क्षेत्र के महरूपुर स्थित प्राथमिक विद्यालय परिसर में हिदू व मुस्लिम संप्रदाय के लोगों की बैठक कर आपस में एकता बनाए रखने का संदेश दिया गया। मौजूद ग्रामीणों ने प्रशासन को आपसी भाईचारा व एकता के साथ रहने का आश्वासन दिया। जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य ने कहा कि देश के सर्वोच्च संस्थान की ओर से आने वाला फैसला एक संवैधानिक प्रक्रिया है। इसे सबको मानना होगा। हमें अफवाह फैलाने वालों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। सोशल मीडिया पर अगर कोई बात आप शेयर करते हैं तो मान लिया जाता है कि आप भी उससे सहमत हैं। एसपी डा. अरविद चतुर्वेदी ने ग्रामीणों से फैसला आने पर आपस में एकता का परिचय का आह्वान किया। उन अराजक तत्वों को आगाह किया जो ऐसे मौके का फायदा उठाने का प्रयास करते हैं। कहा कि सब पर हमारी नजर है। उपजिलाधिकारी राजेश कुमार गुप्ता, क्षेत्राधिकारी चंद्रपाल शर्मा, प्रभारी निरीक्षक धर्मेंद्र कुमार पांडेय, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि मजहर खां, शकील रजा, फिदा हुसैन, बरकतुल्लाह खां, साजिद खां, सरफराज खां आदि रहे। इसी तरह सेवराई में उपजिलाधिकारी विक्रम सिंह की अगुवाई में मीडिया कर्मियों की एक बैठक तहसील मुख्यालय पर हुई। सभी लोगों से मिलजुलकर शांति व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग करने का आह्वान किया।

जमानियां : कोतवाल विमल मिश्रा के नेतृत्व में नगर स्टेशन बाजार में धर्म गुरुओं, व्यापारियों राजनीतिक दल, सभासद संग रैली निकालकर अयोध्या फैसला पर शांति बनाए रखने एवं सहयोग का आह्वान किया। रैली ब्लाक तिराहा से होते हुए कस्बा बाजार होकर पुन: कोतवाली पहुंचा। रैली में शामिल लोग हाथों में तख्तियां लेकर शांति और सद्भाव का आह्वान कर रहे थे। सादात : थानाध्यक्ष रविद्रभूषण मौर्य ने गुरुवार को कृष्ण सुदामा पीजी कालेज व थाना परिसर में डिजिटल वालंटियर ग्रुप की बैठक की। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया सहित समाज में अन्य लोगों के बीच गलत अफवाह फैलाता है तो उसके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत कठोर कार्रवाई की जाएगी। प्राचार्य डा. जयराम सिह यादव, धर्मेंद्र यादव, हरिशंकर मिश्रा, आरके शर्मा, शिवानंद सिंह, बृजेंद्र सिंह आदि रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप