जासं, गाजीपुर : सुहेलदेव, गाजीपुर बांद्रा व माता वैष्णो देवी कटरा एक्सप्रेस के बलिया से संचालन के प्रस्ताव के विरोध, जिला एवं रेल प्रशासन द्वारा कोई जवाब न दिये जाने के विरोध में गुरुवार से सिटी स्टेशन रोड पर स्थानीय लोगों ने फिर से अनिश्चित कालीन धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया। हुंकार भरी कि जब तक लिखित आश्वासन नहीं मिलता तब तक हम लोग चुप नहीं बैठने वाले। इस मौके पर गत दिनों आलीशा इरफान की हत्या करने वाले जघन्य व क्रूर हत्यारे के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाकर तीन माह के अंदर फांसी देने की भी मांग की गयी। साथ ही मोमबत्ती जलाकर मृत आत्मा को श्रद्धांजलि दी गई।

शिक्षणेत्तर कर्मचारी संघ के अध्यक्ष विवेक कुमार सिंह शम्मी ने बताया कि सुहेलदेव व बांद्रा गाजीपुर एक्सप्रेस जिले की भावनाओं से जुड़ी हुई ट्रेनें हैं। बीते 23 सितम्बर 2019 से लगातार धरना-प्रदर्शन व हस्ताक्षर अभियान के माध्यम से जिसे 10 हजार से ज्यादा लोगों ने हस्ताक्षर कर के समर्थन किया था उसको ज्ञापन के माध्यम से जिला प्रशासन, डीआरएम वाराणसी, पीएमओ तथा रेल मंत्रालय भारत सरकार को भी सूचित किया गया था परन्तु तय समय बीत जाने के बाद भी अब तक ट्रेनों को लेकर किसी प्रकार की कोई सूचना जनता व प्रदर्शनकारियों को नहीं दी गयी जिससे जनपदवासियों में आक्रोश का माहौल है। लिखित जवाब मिलने तक ट्रेनों के बलिया से परिचालन के प्रस्ताव के विरोध में अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन जारी रहेगा। धरना-प्रदर्शन में सच्चेलाल यादव, कमलेश यादव, बृजेश यादव, इन्दीवर वर्मा, शुभम श्रीवास्तव, रवि राज, परवेज, इमरान अंसारी, मनीष पांडेय, सिकंदर सिद्दिकी, धर्मेन्द्र सिंह तुलसी आदि थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप