जासं, गाजीपुर : एआरटीओ, पीटीओ व खनन अधिकारी ने बुधवार की रात और गुरुवार को ओवरलोड ट्रकों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। 30 बालू लदे ट्रकों को सीज करने के साथ ही तीन का चालान किया गया। खनन विभाग ने सीज किए गए बालू लदे ओवरलोड ट्रकों पर करीब पांच लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। इससे ट्रक मालिकों में खलबली मची हुई है। वहीं गुरुवार को देर रात तक एआरटीओ सुहवल थाना व रजागंज पुलिस चौकी क्षेत्र में चेकिग करते रहे। हमीद सेतु पर जिलाधिकारी ने ओवरलोड वाहनों को प्रतिबंधित कर दिया है। बावजूद इसके स्थानीय पुलिस की निष्क्रियता के कारण रात में धड़ल्ले से यह ट्रक पुल को पार कर रहे हैं, जो पुल के लिए कतई सही नहीं है। वहीं गुरुवार को सघन चेकिग के कारण एनएच-24 पर लंबा जाम लग गया।

बुधवार की रात व गुरुवार की सुबह पीटीओ मनोज कुमार और खनन अधिकारी जीतेश कुमार ने सघन चेकिग अभियान शुरू किया तो बहुत से वाहन चालक बचने के लिए अपने-अपने वाहनों को सड़कों के किनारे खड़ा कर फरार हो गए। बता दें कि ओवरलोड और अवैध बालू के चल रहे गोरखधंधे को 'दैनिक जागरण' ने उजागर करते हुए खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया। खबर का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी ने खनन अधिकारी को निर्देश दिया। इसके बाद खनन अधिकारी जीतेश कुमार पीटीओ मनोज कुमार के साथ सुहवल थाना क्षेत्र में पहुंचे। स्थानीय पुलिस के साथ नाकाबंदी करते हुए विभिन्न मार्गों पर सघन अभियान शुरू कर दिया। सीज किए गए ट्रकों को विभिन्न थानों को सुपुर्द कर दिया।

--- : हमीद पर किसी भी सूरत में ओवरलोड वाहनों का संचालन नहीं होने दिया जाएगा। पकड़े जाने पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। यह चेकिग अभियान आगे भी जारी रहेगा।

- राम सिंह, एआरटीओ।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस