जागरण संवाददाता, मुहम्मदाबाद (गाजीपुर) : प्रशासन लाख दावा करे लेकिन यूसुफपुर बाजार में मिलावटी खाद्य तेल के कारोबार पर किसी तरह का रोक-टोक नहीं है। आज भी यह कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है। इसका जीता जागता उदाहरण है इस कार्य में लगे व्यवसायियों द्वारा नगर व ग्रामीण इलाके से फुटकर खाद्यान्न बेचने वाले दुकानदारों के यहां से खाली डिब्बों को खरीदकर मंगाया जाना है।

नगर में मिलावटी खाद्य तेलों का कारोबार खुलेआम चलता है। कारोबार करने वाले इतनी सफाई से इस कार्य को अंजाम देते हैं कि आम लोग यह नहीं समझ पाते कि यह असली खाद्य तेल या मिलावटी। कारोबार में शामिल लोग पूरी तरह से एक रैकेट बनाए हुए हैं। इसमें गांव गांव तक जाकर उनके एजेंट फुटकर खाद्य सामग्री की दुकान करने वाले दुकानदारों के यहां से नामी गिरामी कंपनियों के खाली खाद्य तेल के टीन के डिब्बों को खरीद लाते हैं। उन्हीं डिब्बों में मिलावटी तेल पैक करके उसे खुले बाजार में उन कंपनियों के तेल के नाम पर बेच दिया जाता है। इसको लेकर लोगों में इस बात की चर्चा है कि इस कार्य में कहीं न कहीं से संबंधित विभाग के अधिकारियों की संलिप्तता को नकारा नहीं जा सकता। कारण इसकी जानकारी उनको मिलने के बाद भी वह कार्रवाई करने से परहेज करते हैं। जब जिले के आला अधिकारी दबाव बनाते हैं तो जांच के नाम पर कोरम पूरा कर लिया जाता है, जिससे इस अवैध कारोबार को करने वालों का मनोबल बढ़ा हुआ है। उपजिलाधिकारी राजेश कुमार गुप्ता ने बताया कि जल्द ही अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस