गाजीपुर, जागरण संवाददाता। ग्रामीण विकास और पंचायती राज के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि भाजपा के पूर्व विधायक स्व. कृष्णानंद के हत्यारे जेल में घुट-घुट कर जी रहे हैं और उसी में तिल- तिल कर मर जाएंगे। अपराधियों के खिलाफ कानून तो अपना काम करता रहेगा,लेकिन उन अपराधियों को राजनीतिक रूप से हराना होगा। उन्होंने जनसंख्या नियंत्रण कानून पर कहा कि यह जरूरी है, क्योंकि प्रति मिनट जन्म दर 31 बच्चों की है और संसाधन काफी सीमित है।

मुहम्मदाबाद के शहीद पार्क में पूर्व विधायक स्व. कृष्णानंद राय समेत सात लोगों के 17 वां बलिदान दिवस पर बोलते हुए मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि आज से यह शोक सभा नहीं संकल्प सभा होगी। हम संकल्प लेंगे कि जन -जन तक उनकी नीतियों को पहुंचाएंगे और अपराधियों केे खिलाफ लड़ाई को अंजाम तक पहुंचाएंगे।

अलका राय भले ही बैलेट से विधायक न हो लेकिन आज भी वह हमारी विधायक हैं। स्व. कृष्णनंद राय सनातन धर्म के संवाहक थे। उनके समय युवाओं में प्रचलित शिखा इसकी प्रमाण थी। आज सनातन धर्म के विरुद्ध छद्म लड़ाई लव जिहाद व लैंड जिहाद के रूप में लड़ाई लड़ी जा रही है। इसी प्रकार की लड़ाई लड़ते स्वर्गीय कृष्णनंद राय बलिदान हुए। वह तन और मन दोनों से निर्भीक थे और गरीबों और कमजोर लोगों की लड़ाई लड़ते थे।

विधायक सुशील सिंह ने कहा कि सपा और बसपा के गुंडों के अत्याचार के विरुद्ध आवाज उठाने का कार्य स्व. कृष्णानंद राय ने किया था। इसलिए उनकी आवाज को दबा दिया गया। जबसे योगी की सरकार बनीं उन अपराधियों का अत्याचार नहीं दिखाई दे रहा है। जो कह रहे थे कि हमारी सरकार आएगी तो सबका हिसाब होगा आज उनका हिसाब योगी सरकार कर रही है। अब अपराधी जेल के अंदर या प्रदेश के बाहर या ऊपर पहुंच गए हैं।

पूर्व विधायक अलका राय ने कहा कि धन्य है मुहम्मदाबाद की जनता जो 17 साल से मेरे साथ अपराधियोंं के विरुद्ध लड़ाई लड़ रही है। मैं मरते दम तक जनता के लिए लड़ती रहूंगी। मैं जनता के प्यार की सदैव ऋणी रहूंगी। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा की अनुपस्थिति में अभिनव सिन्हा ने मंच को साझा किया।

भाजपा जिलाध्यक्ष भानु प्रताप सिंह, पूर्व मंत्री उपेंद्र तिवारी, जिला पंचायत अध्यक्ष मऊ मनोज राय, कृष्ण बिहारी राय, पूर्व जिलाध्यक्ष बिजेंद्र राय, विनोद शर्मा, आनंद राय मुन्ना, पीयूष राय, डा व्यासमुनि राय, अनिल राय मुन्ना, दिनेश अग्रवाल, प्रमोद राय, शशांक, संतोष रंजन राय, राजेश राय बागी विनोद राय आदि मौजूद रहे।अध्यक्षता पूर्व कैप्टन अनिरुद्ध राय व संचालन रामजी गिरि ने किया।

Edited By: Saurabh Chakravarty

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट