जासं, मुहम्मदाबाद (गाजीपुर) : शासन की ओर से लोगों को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए तरह-तरह की सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है, लेकिन संसाधन के अभाव व उसके देख-रेख के लिए नामित कंपनियों की उदासीनता के चलते मशीनों का लाभ मरीजों को नहीं मिल पा रहा है। कुछ ऐसी ही स्थिति सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर देखने को मिल रही है। मरीजों के ब्लड व अन्य जांचों के लिए करीब एक वर्ष पूर्व केंद्र पर लगाया गया सेमी आटो इनलाइजर मशीन केमिकल के अभाव में एक माह से शोपीस बना हुआ है।

शासन की ओर से स्वास्थ्य केंद्र पर मरीजों के मधुमेह, पीलिया व यूरिक एसिड की जांच के लिए सेमी आटो इनलाइजर मशीन उपलब्ध कराया गया। करीब एक वर्ष पूर्व लगे इस मशीन के संचालन के लिए इनवर्टर की व्यवस्था की गई है, लेकिन एक माह से जांच के काम में आने वाले केमिकल के समाप्त होने से मशीन शो पीस बनी हुई है। इसके चलते जांच के लिए मरीजों को इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। इस संबंध में केंद्र पर तैनात लैब टैक्निशियन चंदन कुमार ने बताया कि केमिकल मंगाने व मशीन को दुरुस्त कराने के लिए उच्चाधिकारियों को सूचित कर दिया गया है। वहां से केमिकल उपलब्ध होते ही मशीन से जांच कार्य शुरू हो जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस