जासं, गाजीपुर : हमीद सेतु पर आवागमन बंद कर बुधवार की सुबह आठ बजे से मरम्मत कार्य शुरू कर दिया गया। काम में लगे इंजीनियरों ने हाइड्रोलिक प्रेशर जैक के सहारे सेतु के पूर्वी तरफ स्पैन लिफ्टिग का काम शुरू किया। घंटों बाद लिफ्टिग का काम सफलतापूर्वक करने के साथ जर्जर रोलर बेयरिग को भी देर शाम तक निकाल लिया गया। इसके बाद बेस पर कंक्रीट की पेडस्टल कास्टिग का काम शुरू हुआ। इसके पूरा होने एवं पकने के बाद प्लेटनुमा बेयरिग को शिफ्ट किया जाएगा। आवागमन रोक दिए जाने से काफी देर तक भीषण जाम लगा रहा।

मरम्मत कार्य शुरू होते ही बैरियर लगाकर वाहनों का आवागमन पूरी तरह से रोक दिया गया। बाइक, साइकिल व पैदल राहगीरों की एकाएक संख्या बढ़ जाने से पुलिस-प्रशासन के हाथ-पांव फूलने लगे। एसडीएम के निर्देश पर इंजीनियरों से वार्ता करने के बाद 15-15 मिनट के अंतराल पर दोनों तरफ से बाइक सवारों को जाने दिया जा रहा था। नगर कोतवाली क्षेत्र के सुखदेवपुर चौराहे व रजागंज पुलिस चौकी के पास एवं सुहवल थाना क्षेत्र के कालूपुर और मेदनीपुर तिराहे पर बैरिकेडिग की गई है। राहगीरों को झेलनी पड़ी परेशानी

हमीद सेतु पर आवागमन बंद कर दिए जाने से राहगीर काफी परेशान दिखे। जानकारी नहीं होने के कारण वह मेदनीपुर तक आ जा रहे थे, जिन्हें रोककर जमानियां-धरम्मरपुर पुल के सहारे जिला मुख्यालय भेजा जा रहा था। इस दौरान आम राहगीरों, सरकारी, निजी नौकरी पेशा, छात्र-छात्राओं को तमाम समस्याओं से दो-चार होना पड़ा। कालूपुर चट्टी पर सुहवल प्रभारी निरीक्षक संजय वर्मा व दूसरे तरफ रजागंज चौकी प्रभारी दर्जनों पुलिसकर्मियों के साथ पूरे दिन तैनात रहे। जिला प्रशासन ने की है मोटरबोट की व्यवस्था

आम राहगीरों के लिए जिला प्रशासन द्वारा मोटर वोट भी व्यवस्था की गई है। इससे लोग गंगा नदी पार कर सकते हैं ताकि सेतु पर लोड न बढ़े और मरम्मत कार्य निरंतर चलता रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप