गाजीपुर: भूतपूर्व सैनिक एसोसिएशन के प्रबंध कार्यकारिणी की मासिक बैठक सोमवार को जिला कार्यालय पर हुई। इसमें भूतपूर्व सैनिकों की विभिन्न समस्याओं और उनके समाधान को लेकर चर्चा हुई। वक्ताओं ने कहा कि जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित होने वाली सैनिक बंधु की बैठक कराने की जिम्मेदारी जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी की है लेकिन अपना दायित्व निभाने में वह असफल रहे हैं। इससे सैनिकों की सभी समस्याएं लंबित रह जाती हैं। बैठक में सभी ने इसकी ¨नदा की। सर्वसम्मति से सभी ने निर्णय लिया कि इस संबंध में एक प्रतिनिधिमंडल जिलाधिकारी से मिलेगा। आगे कहा कि पिछले अगस्त में इसीएचएस हेड क्वार्टर दिल्ली के आफिसर इंचार्ज मेजर जनरल आए थे। उन्होंने कहा था कि अक्टूबर से इसीएचएस में लोकल पर्चेज की सीमा 2.5 लाख रुपये कर दी गई है लेकिन वाइसीइसीएएस वाराणसी की लापरवाही से अभी तक एलपी की सीमा नहीं बढ़ाई जा सकी है। इससे पूर्व सैनिकों को आर्थिक क्षति उठानी पड़ रही है। इसकी शिकायत हेडक्वार्टर दिल्ली से करने का निर्णय लिया गया। अगली बैठक छह दिसंबर को करने का निर्णय लिया गया। अध्यक्षता कैप्टन सुरेंद्र बहादुर ¨सह ने की। बैठक में हानरेरी कैप्टन चंद्रिका ¨सह यादव, फौजदार राम, सुरेश राय, नायक राम, जेडब्ल्यूओ रामचंदर राय, अवध ¨सह, सुबेदार अंगद शर्मा, पीओ दिवाकर राय, सुबेदार कमला शर्मा, चंद्रदेव ¨सह, सुबेदार मेजर मोती चंद ¨सह, नायक रामचंद्र राय, सुबेदार मेजर सोबरन राम, सर्वजीत मिश्रा, सुबेदार सर्जन राम, फौजदार व झनखू राम आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस