जासं, गाजीपुर : नवीन जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य का मंगलवार को जिले में पहला समाधान दिवस था। जखनियां तहसील सभागार में वह शिकायतकर्ताओं से मुखातिब थे। इस दौरान वह काफी संजीदा दिखे। उनके सामने कुल 120 प्रार्थना पत्र आए जिसमें से केवल एक का मौका पर निस्तारण हो पाया। उन्होंने अधीनस्थों को निर्देश दिया कि वह बिना मौके पर गए व जांच किए किसी मामले का निस्तारण न करें। निस्तारण से शिकायतकर्ता संतुष्ट होना चाहिए। अगर पूरे जिले की बात की जाए तो सभी तहसीलों में कुल 552 प्रार्थना पत्र आए जिसमें से 19 का निस्तारण किया गया। तहसील सदर में एसडीएम सत्यप्रिय सिंह की अध्यक्षता में 84 आवेदन व सैदपुर में एसडीएम वेद प्रकाश मिश्रा की अध्यक्षता में 111 में दो-दो, कासिमाबाद में एसडीएम मंशा राम वर्मा की अध्यक्षता में 33 में पांच, मुहम्मदाबाद में एसडीएम राजेश कुमार गुप्ता की अध्यक्षता में 82 में तीन, जमानियां में एसडीएम रमेश मौर्य की अध्यक्षता में 66 में छह और सेवराई में एसडीएम विक्रम सिंह की अध्यक्षता में 56 आवेदन पत्र प्राप्त हुए जिसमें मौके पर निस्तारण शून्य रहा।

नए डीएम का दीदार करने को उत्सुक थे लोग

जखनियां : स्थानीय तहसील में आए नए जिलाधिकारी को लेकर लोगों में काफी उत्सुकता थी। इसमें एसडीएम अभय कुमार मिश्रा, तहसीलदार रामसुधार, आपूर्ति निरीक्षक अमित कुमार, विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता मनीष कुमार निषाद आदि थे।

सड़क बनाने की उठाई मांग

- सर्वदलीय विकास व जनकल्याण संघर्ष समिति का प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को तहसील दिवस में नवागत जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य से मिला। पत्रक देकर फद्दूपुर जखनियां मनिहारी सड़क के मरम्मत की मांग की। साथ ही जखनियां को टाउन एरिया घोषित करने की बात कही। देवनारायण सिंह, सर्वानंद चौबे, राजेश्वर सिंह, रामरतन राम, रमेश पाल, सतिराम सिंह, अनिल सिंह आदि थे।

अनुपस्थित व विलंबित 17 अधिकारियों को नोटिस

सैदपुर : स्थानीय तहसील में के समाधान में कुल 111 मामले आए जिनमें मात्र दो का ही निस्तारण हो सका। उपजिलाधिकारी डा. वेदप्रकाश मिश्र ने समाधान दिवस में अनुपस्थित व विलंब से पहुंचे कुल 17 अधिकारियों के खिलाफ कठोर चेतावनी पत्र जारी किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप