जासं, गाजीपुर : बिहार से अपहृत किशोर का शव रविवार को हमीद सेतु के पास गंगा के रेत पर मिला था। शिनाख्त के बाद सोमवार को उसका पोस्टमार्टम होना था। परिजन कोतवाली पुलिस के साथ शव को लेकर समय से पोस्टमार्टम हाउस पहुंच गए लेकिन वहां पोस्टमार्टम करने वाले डाक्टर नहीं आए थे। इसको लेकर परिजन परेशान हो गए। शव दो दिन का हो गया था और खराब होने लगा था। काफी इंतजार के बाद शाम पौने पांच बजे डाक्टर पहुंचे और पोस्टमार्टम की प्रक्रिया शुरू हो पाई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस