जागरण संवाददाता, गाजीपुर: जनपद को स्वच्छता रै¨कग की सूची में टाप तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन की ओर से कवायद तेज कर दी गई है। आम जनों की राय जानने के लिए शासन की ओर से स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2018 (एसएसजी 2018) एप लांच कर दिया है। बुधवार को मुख्य विकास अधिकारी ने विकास भवन स्थित कार्यालय में पत्रकार आयोजित कर इसकी विस्तृत जानकारी देने के साथ सहयोग भी मांगा।

पूर्व में नगर पालिका व नगर पंचायतों के आधार पर ही जनपद को स्वच्छता रै¨कग में स्थान दिया जाता था। अब ग्रामीण क्षेत्रों की स्वच्छता को शासन द्वारा शामिल करते हुए कई प्रमुख ¨बदुओं को सम्मलित किया गया है। इसके तहत शौचालय निर्माण, शौचालय इस्तेमाल, साफ-सफाई, जल निकासी की पर्याप्त व्यवस्था व ग्रामीणों की राय के बाद ही सर्वेक्षण टीम द्वारा अंक निर्धारित किया जाएगा। पूर्व में जिला प्रशासन व जिला पंचायत राज विभाग की ओर से ग्राम प्रधानों को इसके प्रति जागरूक किया गया है। इसके बाद संक्लप रथ व नुक्कड़ नाटक के साथ वाल पेंटिंग से जन जागरूकता लाने का काम किया गया। अब एप के माध्यम से जनपद को अव्वल करने के लिए आमजनों से सहयोग मांगना शुरू कर दिया है। सीडीओ ने एप की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2018 एप को अपने मोबाइल में इंस्टाल करके तीन प्रमुख ¨बदुओं पर अपनी राय दे सकते हैं।

नुक्कड़ नाटक से जागरूकता

विकास भवन में नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जन जागरूकता लाने का काम किया गया। इस मौके पर सीडीओ हरिकेष चौरसिया, समाज कल्याण अधिकारी जितेंद्र मोहन शुक्ल, नरेंद्र विश्वकर्मा आदि थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप