जासं, खानपुर (गाजीपुर) : फोरलेन निर्माण के दौरान जमीन अधिग्रहित कर सड़क बना दी गई लेकिन कई किसानों को अब तक मुआवजा नहीं मिला है। इससे वे परेशान हैं। उन्हें एसडीएम व डीएम कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ रहा है। मंगलवार को क्षेत्रीय किसानों की बैठक सिधौना स्थित गेस्ट हाउस में हुई। इशोपुर के किसान रामजीत यादव ने कहा कि कहा कि कई बार सैदपुर और गा•ाीपुर का चक्कर लगाने के बाद छह बार मुख्यमंत्री के पोर्टल पर शिकायत की गई। अधिकारी स्पष्ट जवाब नहीं दे रहे हैं। रामपुर की विधवा प्रमिला देवी ने कहा कि मेरा मुआवजा रोक कर रखा गया है और साल भर से सिर्फ इसलिए दौड़ाया जा रहा है कि मैंने अपना निवास सिधौना से इशोपुर कर लिया है। इसी प्रकार सभी किसानों ने जिला और तहसील प्रशासन के साथ एनएचएआई के अधिकारियों द्वारा सही सूचना नहीं देने का दोषी बताया। लोगों ने अपनी समस्याओं को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के समक्ष रखने का निर्णय लिया। प्रेमशंकर मिश्रा,जंगबहादुर यादव, हरसू सिंह, सुभाष यादव, कमलेश कमल, जयशंकर पांडेय, रामप्रताप मिश्रा,सत्यप्रकाश, लल्लन मिश्र आदि शामिल थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप