जागरण संवाददाता, खानपुर (गाजीपुर) : थाना क्षेत्र के मौधा में गुरुवार की भोर में तीन बजे बरामदे में सो रहे प्रापर्टी डीलर संजय सिंह की गोली मारकर हत्या का प्रयास किया गया। गोली उनके दाहिनी आंख के नीचे लगी और जबड़े में जाकर फंस गई। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपित भाग निकले। संजय का गंभीर हाल में वाराणसी में इलाज चल रहा है। मौके पर लोगों की भीड़ लगी रही।

संजय प्रयागराज में अपने परिवार के साथ रहकर प्रापर्टी खरीदने बेचने का कार्य करते हैं। तीन दिन पूर्व अपने भाई पारसनाथ सिंह के साथ भूमि विवाद के निपटारे के लिए बड़े बेटे अश्वनी सिंह के साथ गांव आए हुए थे। गुरुवार की रात अपने मझले भाई सारनाथ सिंह के बरामदे में सोए हुए थे। अचानक गुरुवार की भोर में तीन बजे अपने पिता के बगल में सोए अश्वनी गोली की आवाज सुनकर चौंक उठा। अश्वनी के अनुसार चार की संख्या में हमलावर तेजी से भागते हुए निकल गए।

पिता को लहूलुहान देख अश्वनी स्वजनों की सहायता से उन्हें इलाज के लिए वाराणसी लेकर गए। संजय की पत्नी नीलम अपने दूसरे बेटे आलोक के साथ मायके चंदौली गई हुई थी। सूचना पाकर मौके पर मौधा चौकी इंचार्ज कौशलेन्द्र सिंह और थाना प्रभारी रतन सिंह भी पहुंचे। गोलीकांड की जानकारी मिलते ही

क्षेत्राधिकारी सैदपुर बलिराम प्रसाद भी घटनास्थल की छानबीन कर पड़ोसियों से पूछताछ किए। पुलिस ने शक के आधार पर तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ

कर रही है। ---

तीनों भाइयों में जमीन को लेकर लंबे समय से वाद-विवाद चल रहा है। परिवार के लोग इलाज के लिए वाराणसी गए हुए हैं। तहरीर के आधार पर आगे की कार्रवाई की

जाएगी। हालांकि पुलिस कई बिदु पर जांच-पड़ताल कर रही है।

-रतन सिंह, थाना प्रभारी।

Edited By: Jagran