जागरण संवाददाता, गाजीपुर : नामांकन जांच के दूसरे दिन मंगलवार को चली दिन भर की जांच में रायफल क्लब में जिला पंचायत सदस्य व अन्य सभी ब्लाक मुख्यालयों पर वैध पर्चों की जांच में प्रधान के 57, पंचायत सदस्य के 202 व बीडीसी के 32 पर्चाे को खारिज कर दिया गया। सबसे अधिक जखनियां में प्रधान पद के 17 पर्चे अवैध पाए गए। इसमें एक रामवन में व ओड़ासन के आठ न्याय पंचायत में 16 पर्चे अवैध मिले। कई ने अपना पर्चा खारिज होने से बचाने के लिए दो-तीन सेट में इसे जमा किया था।

पर्चे की जांच में अधिकतर में डाक्यूमेंट में गड़बड़ी, तो कई में मतदाता सूची में नाम न होना, आरक्षित न होते हुए भी आरक्षण की जमानत राशि जमा करना, उम्मीदवार की उम्र का कम होना, आरक्षण में गड़बड़ी होना, वहीं कई पर्चे तो दो या तीन प्रति जमा होने के कारण एक पर्चा को छोड़कर शेष पर्चा खारिज कर दिया गया। इन पर्चों की जांच के बाद अब मैदान में किस पद के कितने उम्मीदवार बचे हैं यह स्पष्ट आज नाम वापसी के बाद हो पाएगा। इसके बाद तीन बजे से उम्मीदवारों को चुनाव चिह्न वितरण किया जाएगा।

----- करंडा में क्षेत्र पंचायत सदस्य के आठ पर्चा खारिज होने में दो का मतदाता सूची में नाम नहीं था, वहीं एक आरक्षण सूची का न होने के बाद भी जमानत राशि आधी जमा किया जाना था। एक का आरक्षण में जाति प्रमाण पत्र गलत लगा था। शेष पर्चा डबल होने के कारण निरस्त किया गया।

---- रेवतीपुर में पंचायत सदस्य का दो पर्चा महिला आरक्षित सीट पर पुरुष के नामांकन करने के कारण निरस्त कर दिया गया। बीडीसी के एक निरस्त उम्मीदवार का नाम मतदाता सूची में ही नहीं था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप