जासं, गाजीपुर : बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा शुक्रवार को परिषदीय व कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालयों के कक्षा पांच से आठ तक के छात्र-छात्राओं में लर्निंग आउटकम परीक्षा कराई जाएगी। बच्चों में विषयवार उपलब्धि स्तर ज्ञात करने के लिए यह परीक्षा सुबह साढ़े 10 से साढ़े 12 बजे तक विद्यालय स्तर पर ही होगी। इस परीक्षा को सकुशल एवं सुचितापूर्वक संपन्न कराने के लिए विद्यालय स्तर, तहसील स्तर व ब्लाक स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। वहीं परीक्षा का आकस्मिक निरीक्षण एवं प्रभावी व्यवस्था किये जाने के लिए जनपद स्तर पर सचल दल का गठन किया गया है।

जनपद स्तर पर लर्निंग आउटकम की परीक्षा के लिए सचल दस्ते में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान सैदपुर, वित्त एवं लेखाधिकारी बेसिक शिक्षा और सहायक लेखाधिकारी सर्व शिक्षा अभियान शामिल हैं। सचल दल परीक्षा केंद्रों का भ्रमण करता रहेगा। वहीं प्रत्येक विद्यालय के लिए एक नोडल अधिकारी एवं पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए हैं। शासन की मंशा यह है कि इस परीक्षा के माध्यम से बच्चों के वास्तविक अधिगम स्तर का आंकलन करके प्राप्त परिणाम के आधार पर उनमें लर्निंग आउटकम के सापेक्ष अधिगम सुनिश्चित करने के लिए ठोस कार्ययोजना बनायी जा सके तथा शिक्षकों को विभाग द्वारा मदद की जा सके। परीक्षा में आये परिणाम के आधार पर किसी भी शिक्षक को किसी भी प्रकार की जवाबदेही तय नहीं की जायेगी।

गोपनीय तरीके से बीआरसी पर पहुंचेंगी उत्तर पुस्तिकाएं

-परीक्षा समाप्ति के उपरांत सीलबंद पैकेट में उत्तर पुस्तिकाओं को संकलित कर सुरक्षित एवं गोपनीय ढंग से बीआरसी केंद्र पर उसी दिन पहुंचाने की जिम्मेदारी पर्यवेक्षक की होगी। संबंधित खंड शिक्षा अधिकारी केंद्रों का भ्रमण करते रहेंगे तथा परीक्षा समाप्ति के उपरांत उत्तर पुस्तिकाओं को बीआरसी कार्यालय पर सुरक्षित रूप से जमा कराकर उसी दिन सायं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को रिपोर्ट करेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप