जागरण संवाददाता, गाजीपुर : सड़कों पर दौड़ रहे मानकविहीन स्कूल वाहनों को शासन ने फिटनेस के लिए अंतिम मौका दिया गया है। 31 मई तक ऐसे सभी वाहन अपना-अपना फिटनेस बनवा लें, अन्यथा सभी का पंजीयन निरस्त कर दिया जाएगा। शासन का आदेश मिलते ही एआरटीओ ने सभी को फिटनेस कराने का निर्देश दिया है।

जिले में 175 स्कूल वाहन ऐसे हैं, जिनका फिटनेस फेल है और वह सड़कों पर फर्राटा भर रहे हैं। शासन की सख्ती से स्कूल संचालकों में खलबली मची हुई है।

जिले में 884 स्कूल वाहन हैं। इसमें करीब 425 बस मिनी बस व शेष वैन हैं। विभागीय आकंडों के अनुसार इसमें 175 वाहन ऐसे हैं, जिनका फिटनेस फेल है। चेतावनी के बावजूद यह फिटनेस नहीं बनवा रहे हैं और बिना डर भय के सड़कों पर फर्राटा भर रहे हैं। शासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इससे पहले एआरटीओ व यातायात पुलिस ने चेकिग कर कार्रवाई की। अधिकारियों ने वाहन संचालकों को कई बार चेताया कि वह समय से वाहनों की फिटनेस व अन्य कागजी कार्रवाई पूरी कर लें, इसके बाद भी स्कूल संचालक ध्यान नहीं दे रहे हैं। अब ऐसे लोगों को चिह्नित कर विभाग कड़ी कार्रवाई के साथ वाहनों का पंजीयन निरस्त करने की कार्रवाई की जाएगी।

वर्जन

जनपद में जितने भी वाहन बिना मानक या फिटनेस के सड़कों पर दौड़ रहे हैं। वह सभी 31 मई तक अपने वाहन का फिटनेस करा लें नहीं तो पंजीकरण रद करने की कार्रवाई की जाएगी।

-राम सिंह, एआरटीओ।

Edited By: Jagran