जागरण संवाददाता, साहिबाबाद :

दिल्ली में लाकडाउन के कारण कामगारों का घर जाना जारी है। मंगलवार को पुलिस से बचते हुए लोग पैदल ही कौशांबी बस डिपो पर पहुंचे। यहां से लोग बस पकड़कर अपने अपने घर को रवाना हुए। कोरोना संकट गहराया हुआ है, बावजूद इसके मंगलवार को कौशांबी बस डिपो पर कोरोना से बचाव के नियमों का जमकर उल्लंघन हुआ। वहीं, दिल्ली के आनंद विहार और कश्मीरी गेट से भी यूपी रोडवेज की बसों का संचालन जारी है।

दिल्ली में लाकडाउन एक सप्ताह में खत्म होगा या आगे बढ़ेगा, इस बात पर लोगों में संशय की स्थिति है। हालांकि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविद केजरीवाल ने लाकडाउन न बढ़ाने और कामगारों से घर न जाने की अपील की थी, लेकिन इसका असर नहीं दिख रहा है। लाकडाउन के चलते लोगों का काम बंद हो गया है। ऐसे में प्रवासी घरों का रुख कर रहे हैं। गाजियाबाद में यूपी रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक एके सिंह ने बताया कि सोमवार को कुल 1187 बसों का संचालन किया गया था। इसमें कौशांबी से 974, दिल्ली के आनंद विहार से 181 और कश्मीरी गेट से 32 बसें चलाई गई थी। मंगलवार शाम चार बजे तक 685 बसों का संचालन किया गया। इसमें कौशांबी से 617, दिल्ली के आनंद विहार से 41 और कश्मीरी गेट से 27 बसें उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के विभिन्न जिलों के लिए चलाई गई। सोमवार से मंगलवार दोपहर दो बजे तक 80 हजार से अधिक यात्री बसों से अपने गंतव्य तक पहुंचे।

दिल्ली में लाकडाउन की वजह से पुलिस लोगों को रोक न ले, ऐसे में बड़ी संख्या में लोग पैदल ही कौशांबी डिपो पर पहुंचे। वहीं, कुछ लोग बस, मेट्रो व अन्य साधन से भी कौशांबी पहुंचे। वहीं, नगर निगम की ओर से मंगलवार को पूरे कौशांबी डिपो को सैनिटाइज किया गया। बसों को भी सैनिटाइज कर संचालित किया जा रहा है। मंगलवार को जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय, डीआइजी अमित पाठक व अन्य अधिकारियों ने कौशांबी बस डिपो पर सुविधाओं का जायजा लिया।

--------

15 घंटे में लखनऊ पहुंच रही बस : कौशांबी बस डिपो से लखनऊ के लिए एसी जनरथ बस भी चलाई गई। गोरखपुर निवासी सोनू ने बताया कि सोमवार रात 10 बजे कौशांबी बस डिपो से एसी बस में बैठकर लखनऊ के लिए निकले। मंगलवार सुबह नौ बजे के बदले बस दोपहर एक बजे पहुंची। जिससे सभी यात्री परेशान हो गए। कई महिलाएं रोने लगीं। इतना ही नहीं, बरेली रूट से जाने वाली यूपी रोडवेज की सभी बसें समय से गंतव्य तक नहीं पहुंच रही हैं। जिससे यात्री परेशान हो रहे हैं। साहिबाबाद बस डिपो के एआरएम बीपी अग्रवाल ने बताया कि रास्ते में बस में खराबी अथवा अन्य कारण से यात्रा में देरी हुई होगी। मामले की जांच कराई जाएगी।

------

डिपो पर दिखी लापरवाही : कौशांबी बस डिपो से कामगारों की घर वापसी जारी है। डिपो पर बना कोविड हेल्प डेस्क खाली रहा। जमकर शारीरिक दूरी का उल्लंघन हुआ। सैनिटाइजेशन के लिए मशीन लगाई गई है, लेकिन बहुत कम लोग हाथ सैनिटाइज करते दिखे। यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिग नहीं की गई। रोडवेज के अधिकारी भी नदारद दिखे, जिससे डिपो पर खूब लापरवाही हुई। इससे कोरोना फैल सकता है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021