गाजियाबाद, जेएनएन। दिल्ली से सटे गाजियाबाद के विजयनगर थानाक्षेत्र से पांच दिन पूर्व लापता हुए ट्रांसपोर्ट कारोबारी का शव रविवार शाम बंद बोरे में हिंडन नदी से मिला है। पुलिस ने हत्या का सनसनीखेज पर्दाफाश कर उसकी ही पत्नी को गिरफ्तार कर एक गैंगस्टर को वांछित किया है। पुलिस के मुताबिक, इस गैंगस्टर से महिला के संबंध थे और वह मृतक का दोस्त भी था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

पुलिस के मुताबिक, कारोबारी के खिलाफ भी लूट व गैंगस्टर के मुकदमे दर्ज थे। जेल में हुई थी दोस्ती मूल रूप से मेरठ निवासी अजय नागर (35) किराना मंडी में ट्रांसपोर्ट का काम करता था। वह बीते 12 साल से गाजियाबाद के विजयनगर स्थित सिद्धार्थ विहार में पत्नी पूजा व दो लड़कों के साथ रहता था।

एसएचओ श्यामवीर सिंह ने बताया कि अजय को करीब दो साल पहले मेरठ पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जेल में उसकी मेरठ के दौराला निवासी गुड्डू से मुलाकात हुई। यहीं दोनों दोस्त बन गए। पुलिस के मुताबिक गुड्डू पेशेवर बदमाश है और उसके खिलाफ मेरठ में गैंगस्टर में भी मुकदमा दर्ज है। डेढ़ साल पहले अजय जेल से छूटा, जिसके बाद गुड्डू का उसके घर आना-जाना हो गया।

पुलिस के मुताबिक इसी दौरान गुड्डू और पूजा के बीच संबंध बन गए। हत्या कर कराई गुमशुदगी करीब छह माह पूर्व गुड्डू पूजा पर दबाव बनाने लगा कि वह अजय के साथ न रहे। एसएचओ के मुताबिक दोनों के कोर्ट मैरिज करने की सूचना भी मिली है। 10 मार्च को पूजा और अजय दिल्ली में शॉपिंग कर रहे थे। पीछा कर गुड्डू भी पहुंच गया। इसको लेकर गुड्डू ने पूजा से नाराजगी जाहिर की।पुलिस के मुताबिक हर मंगलवार को अजय आधी रात के बाद ही घर जाता था, लेकिन 12 मार्च को वह पौने 10 बजे ही घर पहुंच गया।

एसएचओ ने बताया कि पत्नी व दोस्त को साथ में देखकर झगड़ा हुआ, जिसके बाद दोनों ने गला दबाकर अजय की हत्या कर दी। फिर शव को बोरे में बंद कर उसी की कार में रखा और हिंडन नदी में डाल दिया। अगले दिन पूजा ने विजयनगर थाने में पति की गुमशुदगी दर्ज कराई। परिजनों के सामने ही टूट गई पत्नी अजय के लापता होने के बाद उसका भाई व अन्य परिजन उसके घर पर ही थे।

पुलिस के मुताबिक उन्हें पूजा व गुड्डू के बीच संबंधों का पता चल गया। उन्होंने पूजा से पूछताछ की तो वह टूट गई और सारी कहानी बता दी। रविवार दोपहर अजय का भाई भाई थाने पहुंचा और पूजा व गुड्डू के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने पूजा को गिरफ्तार कर उसकी निशानदेही पर हिंडन नदी से अजय का शव बरामद कर लिया। 12 मार्च को कारोबारी की गुमशुदगी दर्ज हुई थी।

श्लोक कुमार (एसपी सिटी) का कहना है कि पूजा को गिरफ्तार कर उसकी निशानदेही पर शव बरामद कर लिया है। उसने गला दबाकर हत्या की बात स्वीकार की है। हालांकि पीएम रिपोर्ट आने पर ही मौत के कारण स्पष्ट होंगे।  

दिल्ली-एनसीआर की महत्वपूर्ण खबरें पढ़ें यहां, बस एक क्लिक पर