जागरण संवाददाता, साहिबाबाद : शुक्र बाजार ज्ञान खंड, इंदिरापुरम स्थित दुकान में मीट विक्रेता ने स्पा सेंटर में काम करने वाली विधवा महिला की छुरी से गला रेतकर निर्मम हत्या कर दी। फिर शव को वैशाली सेक्टर चार-पांच की पुलिया के पास इंदिरापुरम क्षेत्र में हिडन नहर की झाड़ियों में फेंक दिया। घटना के तीसरे दिन रविवार रात में महिला का शव बरामद हुआ। पुलिस ने आरोपित मीट विक्रेता को छुरी के साथ गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की जांच में आया है कि विधवा महिला और आरोपित दोनों परिचित थे। रुपयों के विवाद में हत्या हुई है। तीन बच्चों के साथ रहती थी विधवा महिला: मूलरूप से ग्राम अलदादपुर नवादा थाना कासिमपुर जिला हरदोई की रहने वाली 35 वर्षीय विधवा महिला माधुरी उर्फ पलक यहां मकनपुर इंदिरापुरम में तीन बच्चों के साथ किराये के मकान में रहती थीं। बच्चों का पालन-पोषण करने के लिए वह जगतपुर फार्म नोएडा स्थित एक स्पा सेंटर में नौकरी करती थीं। उनके भाई राहुल ने बताया है कि बृहस्पतिवार सुबह करीब 10 बजे वह नौकरी करने स्पा सेंटर गई। लेकिन रात में नौ बजे तक वापस नहीं लौटीं। उनके बच्चों ने पड़ोस में रहने वाली मौसी सुमन को इसकी जानकारी दी। वह लोग माधुरी की खोजबीन करते रहे, लेकिन कुछ पता नहीं चला। नहर की झाड़ियों में मिला शव: राहुल ने बताया कि शनिवार सुबह उन्होंने इंदिरापुरम की अभय खंड पुलिस चौकी और थाना में माधुरी के गायब होने की सूचना दी। नोएडा पुलिस को भी सूचना दी और माधुरी की खोजबीन करते रहे। स्पा सेंटर के मालिक आदि से बात की, लेकिन कुछ जानकारी नहीं मिली। उन्होंने बताया कि रविवार को भी वह इंदिरापुरम पुलिस से मिले। पुलिस ने नोएडा में शिकायत दर्ज कराने की सलाह दी। रविवार रात में डेढ़ बजे इंदिरापुरम पुलिस ने बताया कि वैशाली सेक्टर चार व पांच की पुलिया के पास इंदिरापुरम क्षेत्र में एक महिला का शव मिला है। उन्होंने देखा, तो शव माधुरी का था। आरोपित को दबोचा: शव की शिनाख्त के बाद पुलिस ने स्वजनों से पूछताछ की। स्वजनों से मिली जानकारी से शुक्र बाजार ज्ञान खंड इंदिरापुरम में किराये पर रहने वाले मीट विक्रेता मुस्तफा पर पुलिस का शक गहराया। पुलिस ने रात में ही उसे घर से हिरासत में ले लिया। इंदिरापुरम थाना प्रभारी निरीक्षक संजीव शर्मा ने बताया कि मुस्तफा मूलरूप से ग्राम दासपारा थाना चोपरा जिला उत्तर दिनारपुर पश्चिम बंगाल का रहने वाला है। कड़ाई से पूछताछ की गई, तो उसने माधुरी की हत्या करने की बात कबूल की। उसने बताया कि माधुरी खर्चे के लिए उससे पैसे मांगती थी। हाल में ही उसने उसे 10 हजार रुपये दिए थे। 10 हजार रुपये और मांग रही थी। इसको लेकर बृहस्पतिवार को करीब 20 बार फोन पर दोनों में झगड़ा हुआ। इसके बाद उसने माधुरी की हत्या करने की योजना बनाई। बृहस्पतिवार रात में माधुरी नोएडा से ड्यूटी कर लौट रही थी, तो उसे कॉल कर शुक्र बाजार स्थित अपनी मीट की दुकान में बुला लिया। फिर दुकान के अंदर ही छुरी से गला रेत कर उसकी हत्या कर दी। मुर्गा के अवशेष के साथ फेंका : दुकान में एकत्रित मुर्गा के अवशेष के साथ माधुरी के शव को भी बड़े थैले में भर लिया। उसे टेंपो में लादकर वैशाली सेक्टर चार-पांच की पुलिया के पास हिडन नहर की झाड़ियों में फेंक दिया। छुरी और माधुरी का मोबाइल तीन पॉलीथिन में लपेट कर झाड़ियों में फेंक दिया। वह हर दिन मुर्गा का अवशेष फेंकने जाता है, इसलिए किसी ने शक भी नहीं किया। उसकी निशानदेही पर छुरी और माधुरी का मोबाइल बरामद हो गया है। स्पा सेंटर में काम करने वाली विधवा महिला की हत्या करने वाले आरोपित मुस्तफा को गिरफ्तार कर लिया गया है। छुरी और मृतका का मोबाइल बरामद हो गया है। उसके खिलाफ हत्या व अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है।

- कलानिधि नैथानी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, गाजियाबाद।