जागरण संवाददाता, साहिबाबाद : कृषि कानून विरोधियों ने शुक्रवार को प्रस्तावित पुतला दहन कार्यक्रम को एक दिन के लिए स्थगित कर दिया है। बावजूद इसके पुलिस-प्रशासन सतर्क है। पुलिस महानिरीक्षक मेरठ परिक्षेत्र प्रवीण कुमार स्वयं सुरक्षा-व्यवस्था की कमान संभाल रहे हैं। बृहस्पतिवार शाम कौशांबी में पुलिस बल के साथ पैदल मार्च किया। आमजन को सुरक्षा का भरोसा दिया। शांति-व्यवस्था बनाए रखने की अपील की। अराजक तत्वों से कड़ाई से निपटने का संदेश दिया।

प्रवीण कुमार बृहस्पतिवार शाम को पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय गाजियाबाद ज्ञानेंद्र सिंह व पुलिस बल के साथ कौशांबी पहुंचे। उन्होंने पूरे क्षेत्र में पैदल मार्च किया। इस दौरान लोगों से भाईचारा बनाकर त्योहार मनाने की अपील की। कहा कि कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए सभी लोग त्योहार मनाए। संदिग्ध व्यक्ति या वस्तु की तत्काल स्थानीय पुलिस को सूचना दें। अफवाहों पर ध्यान न दें। पुलिस उनकी सुरक्षा के लिए सदैव तत्पर है। उन्होंने कहा कि अफवाह फैलाने और शांति-व्यवस्था बिगाड़ने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्हें किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। वहीं, दूसरी तरफ क्षेत्र की पुलिस चौकियों पर शांति समिति की बैठक की गई।

-------

कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था : कृषि कानून विरोधी प्रदर्शन के कारण यूपी गेट पर कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था है। क्षेत्र में सात जोन व 13 सेक्टर में बांटा गया है। राउंड द क्लाक अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। पुलिस उपाधीक्षकों की छह-छह घंटों के लिए तैनाती है। पीएसी व अर्धसैनिक बल तैनात है। खुफिया विभाग हर छोटी सी छोटी गतिविधियों पर नजर रखे हुए है।

---------

कर रहे समन्वय : पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों से वार्ता की है। उनसे शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है। बता दें कि लखीमपुर खीरी प्रकरण को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने देशव्यापी आंदोलन का एलान किया है। उसके तहत शुक्रवार को प्रधानमंत्री सहित अन्य नेताओं का पुतला दहन करने का कार्यक्रम प्रस्तावित था। दशहरा के कारण उसे एक दिन के लिए टाल दिया गया है। अब प्रदर्शनकारियों ने शनिवार को पुतला दहन करने का एलान किया है।

Edited By: Jagran