जागरण संवाददाता, साहिबाबाद: कोरोना का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए बैंकिंग सेक्टर में भी डब्ल्यूएचओ द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस का पालन किया जा रहा है। यहां पर ग्राहक हो या फिर कर्मचारी सभी को बैंकों में प्रवेश करते ही हाथों को सैनिटाइजर से धोना जरूरी है। डेढ़ मीटर की दूरी से बैंक कर्मचारी और ग्राहक रकम का लेनदेन कर रहे हैं। बैंकों की प्रत्येक शाखा में रोजाना सैकड़ों लोगों का आना-जाना लगा रहता है। स्थिति यह है कि भीड़ के कारण कई बार बैंक में लोगों को लाइन भी लगानी पड़ती है। ऐसे में कोरोना का संक्रमण न फैले, इसके लिए बैंक के गेट पर ही तैनात सुरक्षाकर्मी सैनिटाइजर से भी व्यक्तियों को हाथ धोने के बाद ही बैंक में प्रवेश करने के लिए कहते हैं। बैंक के कर्मचारी भी रुपये के लेन देन करने से पहले हाथों को सैनिटाइजर से धो रहे हैं। एटीएम में लापरवाही: बैंक परिसर में ही स्थित एटीएम के बटनों को दिन में दो बार स्प्रिट से साफ करवाया जा रहा है। लेकिन जो एटीएम बैंक परिसर में नहीं हैं, वहां पर सुरक्षा के लिहाज से जरूरी कदम नहीं उठाए जा रहे हैं।

बैंक में कर्मचारियों को मास्क पहनकर काम करने के लिए निर्देश दिए गए हैं। 20 मिनट के अंतराल पर शाखा के सभी कर्मचारियों को हाथ धोने के लिए कहा गया है। एटीएम के बटनों को स्प्रिट से साफ करवा रहे हैं। - ऊषा स्याल, शाखा प्रबंधक, पंजाब नेशनल बैंक, इंदिरापुरम बैंक में हाथों को धोने के लिए सैनिटाइजर मिल रहा है, सुरक्षा के लिहाज से यह जरूरी है। सिर्फ बैंक परिसर ही नहीं बैंक से दूर लगाए गए एटीएम के बटनों को भी स्प्रिट से साफ कराया जाना चाहिए।

- भावना, वैशाली निवासी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस