जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : पिछले कुछ दिनों से सब्जियों के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। टमाटर के दाम भी बढ़कर 60 से 80 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गए हैं। सब्जियों के दाम में आए जबरदस्त उछाल के बाद आमजन की थाली से सब्जियां गायब हो रही हैं। महंगाई के मामले में टमाटर और गोभी ने सबसे ज्यादा आंखें तरेरी हैं।

कुछ दिन पहले तक टमाटर 20 से 25 रुपये प्रति किलो तक ठेलियों पर बिक रहा था। इसके दाम अचानक तीन से चार गुना तक बढ़ गए हैं। मंडी के सब्जी कारोबारियों की मानें तो स्थानीय स्तर पर इसकी फसल खत्म हो चुकी है। टमाटर की आवक हिमाचल के शिमला से हो रही है। पिछले दिनों में लगभग सभी सब्जियों के दाम में दो से तीन गुना बढ़ोतरी हुई है। सब्जियों में टमाटर ही नहीं अन्य हरी सब्जियों के दाम भी बढ़े हैं। गोभी 80 से 100 रुपये किलो तक पहुंच गई है।

----

सब्जी के दाम

सब्जी- रुपये प्रति किलो

टमाटर- 60 से 70 रुपये

आलू- 15 से 20 रुपये

पहाडी अरबी- 50 रुपये

देशी अरबी - 30 रुपये

लौकी- 40 रुपये

तोरई - 40 रुपये

प्याज - 50 रुपये

बैंगन- 40 रुपये

गोभी- 80 से 100 रुपये

धनिया- 100 से 120 रुपये

अदरक- 50 से 100 रुपये

बीन्स - 80 रुपये

पत्ता गोभी- 40 रुपये

------

शिमला से हो रही टमाटर की आवक : हिमाचल के शिमला से आवक का खर्च जोड़कर टमाटर महंगे दामों में सब्जी मंडी पहुंच रहा है। यहां से मुनाफे के बाद फुटकर विक्रेताओं से ग्राहकों तक पहुंचता है। सब्जी कारोबारियों की माने तो आवक के मुकाबले मांग अधिक है, जिस कारण टमाटर और अन्य सब्जियां महंगी हैं। दीवाली के बाद यहां सब्जी की फसल होने पर यह सभी सस्ती हो जाएंगी।

----------------

वर्जन..

टमाटर समेत अधिकांश सब्जियां दूसरे प्रदेशों से आ रही हैं। इसका असर सीधे दाम पर पड़ रहा है। दीपावली के बाद नई सब्जियां शुरू होंगी, जिससे इनके दामों में कमी आएगी। थोक मंडी में सब्जियों के दाम कुछ कम हैं।

-लोकेश सैनी, विक्रेता, सब्जी मंडी, गाजियाबाद।

Edited By: Jagran