जागरण संवाददाता, साहिबाबाद : भोपुरा के डीएलएफ कॉलोनी में एक फ्लैट में धमाका होने से दीवारें, दरवाजे व खिड़कियां क्षतिग्रस्त हो गए, जबकि फ्लैट में आग लग गई। खिड़की पर लगा एसी सामने की इमारत के भूतल पर बनी दुकान में जा घुसा। इस दौरान फ्लैट में मौजूद महिला घायल गंभीर रूप से घायल हो गई, जबकि दूसरे फ्लैट में मौजूद दो बच्चे भी मामूली घायल हो गए। घायल महिला को दिल्ली के गुरु तेगबहादुर (जीटीबी) अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दमकल की दो गाड़ियों ने आग पर काबू पाया। शुरुआती जांच में एसी के कंप्रेशर फटने से ब्लास्ट होने और आग लगने का कारण माना जा रहा है।

डीएलएफ कॉलोनी बी-1/1 में तीन मंजिला इमारत है। दूसरी मंजिल पर चार फ्लैट हैं। एक फ्लैट में मुकेश अपनी पत्नी मोनी के साथ रहते हैं। सोमवार दोपहर करीब साढ़े 12 बजे उनके फ्लैट में तेज धमाका हुआ और आग लग गई। मुकेश के फ्लैट से सटे दो फ्लैटों की दीवारें, दरवाजे, खिड़कियां व एसी क्षतिग्रस्त हो गए। दूसरे फ्लैट में शिवेंद्र गोयल की पत्नी दिव्या गोयल, बेटी शिव्या, बेटे शिव आर्यन रहते हैं। हादसे में शिव्या व शिव आर्यन मामूली रूप से घायल हो गए। लोगों ने जान पर खेलकर घायल मोनी व बच्चों को बाहर निकाला। आनन-फानन में लोग मोनी को दिल्ली के जीटीबी अस्पताल ले गए। मोनी की हालत गंभीर बताई जा रही है। मामूली रूप से घायल दोनों बच्चों को पास के एक क्लीनिक से उपचार के बाद छुट्टी मिल गई।

बाल-बाल बची दूसरी महिला : तीसरी फ्लैट में महिला शांति रावत थीं। गनीमत रही कि वह बालकनी में थी। इसके चलते उन्हें किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचा। हालांकि, उनके घर की दीवार भी क्षतिग्रस्त हुई है।

सामने की दुकान में जा घुसा एसी : इसी इमारत में भूतल पर जनरल स्टोर की दुकान चलाने वाले आइपी कक्कड़ ने बताया कि धमाका इतना तेज था कि पूरी बिल्डिग हिल गई। लोग अपनी दुकानों और घरों से बाहर आ गए। मुकेश के फ्लैट में लगा एसी उड़कर सामने की बिल्डिग में भूतल पर बनी दुकान में जा घुसा। वहीं, दरवाजा टूटकर दूर जा गिरा। गनीमत रही कि जहां पर एसी व दरवाजा गिरा, वहां कोई नहीं था। वरना बड़ा हादसा हो सकता था।

तीन फ्लैटों के बीच की दीवार गिरी : दूसरी मंजिल पर तीन फ्लैटों के बीच में बनी दीवार धमाके से गिर गई। इससे तीनों फ्लैट एक हो गए और लाखों का नुकसान हो गया। दीवार गिरने से छत भी क्षतिग्रस्त हो गई है। दूसरी मंजिल पर बना चौथे फ्लैट का केवल कांच टूटा है। गनीमत रही कि क्षतिग्रस्त हुई फ्लैट में कोई और नहीं था, वरना बड़ा हादसा हो सकता था। सूचना पर साहिबाबाद एफएसओ माम चंद बड़गूजर दो दमकल गाड़ियों के साथ मौके पर पहुंचे। दमकलकर्मियों ने एक घंटे में आग बुझाई।

बयान

शुरुआती जांच में आग लगने का कारण एसी का कंप्रेशर फटना लग रहा है। धमाके की वजह से ही आग फैल गई और दीवार भी क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे में महिला घायल हुई है।

-सुनील कुमार सिंह, मुख्य अग्निशमन अधिकारी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस