जागरण संवाददाता, साहिबाबाद :

कोरोना काल में मेडिकल स्टोर संचालक लोगों की मजबूरी का फायदा उठाकर खूब लूट रहे हैं। इंदिरापुरम के शिप्रा सनसिटी स्थित सेंट्रल मार्केट की अपोलो फार्मेसी में 11 सौ की फेबी फ्लू साढ़े 18 सौ में बेचते समय सोसायटी निवासी व एओए के सदस्य सुशील चौधरी ने स्टिग आपरेशन कर लिया। पुलिस ने आरोपित मेडिकल स्टोर संचालक से कुछ लोगों के रुपये वापस करवाए। इसके बाद माफीनामा लिखवाकर छोड़ दिया।

शिप्रा सनसिटी फेज-एक एओए सदस्य सुशील चौधरी ने बताया कि सोसायटी में रहने वाले एक कोरोना संक्रमित मरीज को फेबी फ्लू दवा की जरूरत थी। उन्होंने शुक्रवार देर शाम अपोलो फार्मेसी में फोन किया तो बताया गया कि दवा खत्म है। मेडिकल स्टोर संचालक ने एक नंबर देकर कहा कि इस नंबर कॉल कर लीजिए वहां दवा मिल जाएगी। काल करने पर उस व्यक्ति ने कहा कि दवा गाजियाबाद में दो हजार रुपये में मिलेगी। ये सब बातें सुशील ने फोन में रिकार्ड कर ली। इसके बाद सुशील ने सोसायटी के ही एक व्यक्ति को अपोलो फार्मेसी पर भेजा। मेडिकल स्टोर संचालक ने 11 सौ रुपये की फेबी फ्लू दवा साढ़े 18 सौ रुपये में देने को तैयार हो गया लेकिन बिल न देने को कहा। इसके बाद सुशील मेडिकल स्टोर पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आरोपित को पकड़ लिया। पता चला कि पिछले कई दिनों से लोगों की मजबूरी का फायदा उठाकर दवाओं को दोगुने दाम पर बेचा जा रहा था। सोसायटी निवासी राजबाला का कहना है कि उनके पति बिजेंद्र कुमार कोरोना संक्रमित हैं। बीते सप्ताह उन्होंने दवा ली थी। 11 सौ की दवा 24 सौ रुपये में दी। मेडिकल स्टोर संचालक आपदा को अवसर बनाकर ग्राहकों को लूट रहे हैं।

-------

कार्रवाई की जगह माफीनामा से बढ़ेगा अपराध :

इस मामले में पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने से सवाल उठ रहे हैं। आरोपित को पकड़े जाने के बाद भी छोड़ दिया गया। लोगों का कहना है कि पुलिस की इस ढिलाई से मेडिकल स्टोर संचालक और मनमानी करेंगे। इस संबंध में इंदिरापुरम थाना प्रभारी निरीक्षक संजीव शर्मा का कहना है कि शिकायतकर्ता ने लिखित शिकायत नहीं दी। लोगों ने कार्रवाई न करने के लिए बोला, लिहाजा आरोपित को छोड़ना पड़ा।

------

दोबारा कालाबाजारी की तो लिखवाएंगे एफआइआर: शिप्रा सनसिटी निवासी वार्ड-100 के पार्षद संजय सिंह का कहना है कि मेडिकल स्टोर संचालक ने बताया कि उसे ऊपर से ही महंगी दवा मिली थी। वह गाजियाबाद के नवयुग मार्केट से दवा ले आता है। गाजियाबाद पुलिस नवयुग मार्केट वाले आरोपित पर कार्रवाई कर रही है। ऐसे में इस मेडिकल स्टोर संचालक को पुलिस से छोड़ने से अपील की गई। आगे से महंगी दवा बेचा तो रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।