जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : अंतरराष्ट्रीय पर्वतारोही सागर कसाना ने हिमाचल प्रदेश की सबसे लंबी पर्वत श्रृंखला पीर पंजाल की 17,346 फीट उंची माउंट फ्रेंडशिप चोटी पर तिरंगा फहराकर जनसंख्या नियंत्रण का संदेश दिया।

पर्वतारोही सागर कसाना ने एक बार फिर गाजियाबाद और अपने प्रदेश को गौरवान्वित किया है। उन्होंने यह उपलब्धि 19 सितंबर को हासिल की। उनके दल के आठ सदस्यों ने 14 सितंबर को मनाली से चढ़ाई शुरू की थी। उनका यह अभियान सात दिन का था। वह मनाली से ढूंढी, बकरताज होते हुए एडवांस बेस कैंप पहुंचे। 18 सितंबर को आखिरी बेस कैंप से रात में करीब आठ घंटे पैदल चलकर 19 सितंबर सुबह साढ़े सात बजे पीर पंजाल की माउंट फ्रेंडशिप चोटी पर तिरंगा फहराते हुए जनसंख्या नियंत्रण का संदेश दिया। दैनिक जागरण से बातचीत में सागर कसाना ने बताया कि इस दौरान रास्ता काफी जोखिम भरा रहा। नुकीली बर्फ और फिसलन के साथ तेज हवाओं व बर्फ की चोटी की दरारों ने काफी परेशान किया। इस बीच तिरंगे ने जोश और गर्मी को बरकरार रखा और लक्ष्य को हासिल किया। उन्होंने बताया कि वह देशवासियों को जनसंख्या नियंत्रण के प्रति जागरूक करेंगे।

------------

ग्रुप में उत्तर प्रदेश से अकेले थे सागर सागर कसाना के ग्रुप में उनके अलावा मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक और दिल्ली के पर्वतारोही भी शामिल थे। दिल्ली और उत्तर प्रदेश से स्वयं सागर कसाना ही थे। वह इससे पहले अफ्रीका खंड की सबसे ऊंची चोटी माउंट किलिमंजारो और यूरोप खंड की सबसे ऊंची चोटी माउंट एलब्रुस और दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर भी तिरंगा फहरा चुके हैं।

--------------

मुख्यमंत्री कर चुके हैं सम्मानित पर्वतारोही सागर कसाना मौजूदा वर्ष 2021 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से राज्य स्तरीय विवेकानंद यूथ अवार्ड से सम्मानित हो चुके हैं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के यूथ आइकान के अलावा गाजियाबाद नगर निगम के स्वच्छता मिशन के ब्रांड एंबेसडर भी हैं।

Edited By: Jagran