जासं, गाजियाबाद : निश्शुल्क शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2019 के अंतर्गत दाखिले के लिए सोमवार को प्रथम चरण में लाटरी की प्रक्रिया समाप्त हो गई। 2,746 बच्चों को ई-लाटरी के लिए शामिल किया गया। इनमें से 2,170 बच्चों को दाखिले के लिए चुना गया है। जल्दी ही चयनित बच्चों को अलाटमेंट लेटर जारी कर दिए जाएंगे। दूसरे चरण में दाखिले के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो गई है जो 23 अप्रैल तक चलेगी।

आरटीई के तहत दाखिले के लिए आवेदन की प्रक्रिया दो मार्च को शुरू हो गई थी। करीब चार हजार बच्चों के दाखिले के लिए आवेदन विभाग को आनलाइन मिले थे। विभाग द्वारा सत्यापन के बाद सोमवार को आनलाइन लाटरी की। जिनमें से कुल 2,746 बच्चों को ई-लाटरी में शामिल किया गया और 2,170 को दाखिले के लिए चुना गया। जबकि बाकी बचे 576 बच्चों को सीट फुल होने के चलते मौका नहीं मिल सका। जिन्हें योजना का लाभ के लिए फिर से आवेदन करना होगा। विभाग अब चयनित बच्चों के लिए अलाटमेंट लेटर जारी करेगा। जिनका प्रवेश अप्रैल माह के अंत तक सुनिश्चित कराना होगा। दूसरे चरण के लिए आनलाइन आवेदन की प्रक्रिया एक अप्रैल शुरू हो गई है जो 23 अप्रैल तक चलेगी। 24 से 26 अप्रैल तक आवेदन का विभाग द्वारा सत्यापन किया जाएगा। इसके बाद 28 अप्रैल को दूसरे चरण की लाटरी की जाएगी। जिसके आधार पर पांच मई तक दाखिले कराने होंगे। इसके बाद तीसरे चरण की आवेदन प्रक्रिया 29 अप्रैल से शुरू होगी। विभाग द्वारा अपनी सुविधानुसार या अन्य कारणों से दाखिला प्रक्रिया की तिथियों को आगे भी बढ़ाया जा सकता है। बेसिक शिक्षा अधिकारी बृज भूषण चौधरी ने कहा कि लाटरी में जिन बच्चों के नाम हैं सभी के लिए विभाग द्वारा सीट आवंटित की जाएंगी। जिन स्कूल में बच्चों के लिए सीट आवंटित की जाएगी। सभी विद्यालयों को बच्चों का दाखिला लेना होगा। किसी भी विद्यालय की दाखिला नहीं लेनी की शिकायत मिलती है तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021