संवाद सहयोगी, लोनी : कोतवाली क्षेत्र की अशोक विहार कालोनी में तीन दिन पूर्व बच्चा चोरी में आरोप में बंधक बनाई गई तीनों महिलाएं जांच में निर्दोष पाई गई हैं। पुलिस ने तीनों महिलाओं को उनके स्वजन के सुपुर्द कर दिया है। पुलिस टीम पर हमले के आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए दबिश जारी है।

बता दें कि 14 अप्रैल को अशोक विहार कालोनी से एक बच्चे का अपहरण हुआ था। रविवार को तीन महिलाएं अशोक विहार कालोनी पहुंची थीं। जिन्हें लोगों ने बच्चा चोर बताते हुए एक मकान में बंधक बना लिया था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिलाओं को हिरासत में लेकर पूछताछ करने की बात कही थी। लेकिन लोग महिलाओं को पुलिस के सुपुर्द करने को तैयार नहीं थे। पुलिस ने महिलाओं को लोगों के कब्जे से मुक्त कराकर कार में बैठा लिया था। इससे नाराज सैकड़ों लोगों की भीड़ ने पुलिस टीम पर पथराव कर दिया था। पथराव से पुलिस क्षेत्राधिकारी की गाड़ी का शीशा टूट गया था। साथ ही कई कांस्टेबल भी चोटिल हो गए थे। लेकिन पुलिस महिलाओं को भीड़ के चंगुल से निकालने में सफल हो गई थी। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि महिलाओं से पूछताछ कर ली गई है। महिलाएं बच्चा चोरी में संलिप्त नहीं पाई गई हैं। पूछताछ पूरी होने पर महिलाओं को उनके स्वजन के सुपुर्द कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस टीम पर पथराव करने वाले 13 आरोपितों को जेल भेज दिया गया है। अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए संभावित स्थानों पर दबिश दी जा रही है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021