जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : जिले में पुलिस पर हमला करने की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। बृहस्पतिवार तड़के पटेलनगर सेकेंड में झगड़े की सूचना पर पहुंचे लैपर्ड सवार सिपाही से धक्कामुक्की के बाद मारपीट कर वर्दी फाड़ दी गई। सिपाही को पत्थर मारकर चोट भी पहुंचाई गई। पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार किया है।

पटेलनगर सेकेंड निवासी सागर शर्मा ने बताया कि उन्होंने 21 मई को नेहा शर्मा से आर्य समाज मंदिर में शादी की थी। पटेलनगर थर्ड में रहने वाली नेहा की मां रेखा और भाई अभिषेक व मन्नू शादी से नाखुश हैं। यूपी पुलिस से रिटायर्ड दरोगा नेहा के चाचा भी शादी के खिलाफ हैं। आरोप है कि दो दिन पूर्व मां व भाई ने सागर के घर में घुसकर मारपीट की थी। मगर परिवार की बात होने के कारण उन्होंने पुलिस को शिकायत नहीं की। आरोप है कि 30 मई की तड़के तीन बजे तीनों फिर से उनके घर पर धावा बोल दिया। तीनों ने सागर, नेहा, सागर की मां निशा और उसकी बहन से मारपीट की। सागर की सूचना पर क्षेत्र में गश्त कर रहे सिपाही कपिल मलिक लैपर्ड के साथ मौके पर पहुंचे। कपिल का आरोप है कि अभिषेक नशे में था और वह बातचीत के दौरान खुद ही गिर गया। दोनों पक्षों को सुनने के बाद उन्होंने रेखा व मन्नू को समझाने की कोशिश, लेकिन वे भी नहीं माने। तीनों ने सिपाही से धक्कामुक्की कर उन्हें गिरा दिया। उनसे मारपीट कर वर्दी फाड़ दी। पत्थर या किसी भारी वस्तु से वार किए, जिस कारण सिपाही लहूलुहान हो गया। इसी दौरान तीनों आरोपित फरार हो गए।

एसएचओ सिहानी गेट संजय पांडे ने बताया कि रेखा, अभिषेक व मन्नू के खिलाफ दो मुकदमे दर्ज किए गए हैं। इनमें सरकारी काम में बाधा पहुंचाने के साथ मारपीट करने और धमकी देने का आरोप लगाया गया है। मन्नू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। अन्य आरोपितों की तलाश की जा रही है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस