गाजियाबाद, जेएनएन। दिल्ली से सटे गाजियाबाद के खोड़ा में छह जनवरी को कमरे से मिले युवती के शव के मामले का पर्दाफाश कर पुलिस ने मृतका के लिव-इन पार्टनर को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक, बहन की मौत के बाद युवती अपने जीजा से अक्सर बात करती थी। शक के कारण दोनों में झगड़ा हुआ और आरोपित ने दुपट्टे से उसका गला घोंट दिया। एसपी सिटी श्लोक कुमार ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित की पहचान श्याम मनोहर उर्फ श्यामू के रूप में हुई है, जो हरदोई के हरपालपुर थानाक्षेत्र का मूल निवासी है। आरोपित बुलंदशहर की आकांक्षा (21) के साथ खोड़ा के दीपक विहार में किराये पर कमरा लेकर रहता था।

कंपनी में हुई थी दोस्ती
एसपी सिटी ने बताया कि एक साल पूर्व श्यामू नोएडा की मदरसन कंपनी में नौकरी करने आया था। वह कंपनी में सुपरवाइजर था और आकांक्षा भी यहां वर्कर थी। दोनों में दोस्ती हुई और फिर साथ रहने लगे। 28 दिसंबर को आकांक्षा की बड़ी बहन की मौत हो गई थी, जिसके बाद वह अपने जीजा से अक्सर बात करने लगी। 

पुलिस के मुताबिक, श्यामू ने पूछताछ में स्वीकार किया है कि आकांक्षा और जीजा के बीच बातचीत उसे पसंद नहीं थी। उसे शक था कि कहीं आकांक्षा के परिजन जीजा से ही उसकी शादी न कर दें। इसको लेकर छह जनवरी को दोनों में झगड़ा हुआ, जिसके बाद उसने लाल रंग के दुपट्टे से आकांक्षा का गला घोंट दिया।

शादीशुदा है आरोपित
पुलिस पूछताछ में पता चला कि श्यामू शादीशुदा है। इस बारे में आकांक्षा को नहीं पता था। श्यामू ने बताया कि चार साल पहले उसकी शादी हुई थी और उसका एक तीन साल का बच्चा भी है। परिवार गांव में ही रहता है। खोड़ा थाना प्रभारी प्रदीप त्रिपाठी ने बताया कि आकांक्षा की मां ने श्यामू के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था।

यह भी पढ़ेंः जानिए- प्रेमी के लिए पति को छोड़ने वाली दिल्ली की इस महिला की नई दरिंदगी

दिल्ली-एनसीआर की महत्वपूर्ण खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप