जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : फ्री में पेट्रोल देने से इंकार करने पर नाराज दबंग ने एक पंप कर्मचारी पर सफारी कार चढ़ा दी। घटना 11 दिसंबर की शाम महागुनपुरम स्थित पेट्रोल पंप की है। घटना में घायल कर्मचारी को स्थानीय अस्पताल से एम्स रेफर कर दिया गया। जानलेवा हमले में कर्मचारी का दायां पैर इस कदर चोटिल हो गया कि डॉक्टरों को इसे काटना पड़ा। साथी की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर कविनगर पुलिस पेट्रोल पंप की सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।

मसूरी के पिपलेहड़ा निवासी सलीम महागुनपुरम की रुक्मणी सर्विस स्टेशन (पेट्रोल पंप) पर काम करते हैं। सलीम के मुताबिक 11 दिसंबर की शाम साढ़े छह बजे एक सफारी कार पेट्रोल पंप पर तेज गति से आई और साथी कर्मचारी संजय को रौंद दिया। संजय ने भागकर बचने की कोशिश की, लेकिन उनका दायां पैर कार की चपेट में आ गया। इस कारण घुटने से नीचे का हिस्सा लटक गया। आरोप है कि सफारी कार चालक तुरंत फरार हो गया। अन्य कर्मचारी संजय को कोलंबिया एशिया अस्पताल ले गए, जहां से एम्स रेफर कर दिया गया।

सलीम ने बताया कि कार अंकित नाम का व्यक्ति चला रहा था, जो 3-4 दिन पूर्व भी पेट्रोल भराने आया था। आरोपित पेट्रोल के पैसे देने के बजाय मुफ्त में देने की जिद कर रहा था। पेट्रोल पंप कर्मियों के विरोध के चलते आरोपित उस समय चला गया था। सलीम के मुताबिक तमाम कोशिशों के बाद भी संजय का दायां पैर नहीं बचाया जा सका। बृहस्पतिवार को डॉक्टरों ने घुटने के नीचे के हिस्से को काटकर अलग कर दिया।

एसएचओ मोहम्मद असलम ने बताया कि अंकित नाम के आरोपित के खिलाफ जानलेवा हमले का केस दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही है। सीसीटीवी फुटेज भी खंगाली जा रही है। जल्द ही आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस