जागरण संवाददाता, गाजियाबाद: मुख्यमंत्री के निर्देश पर जिला एमएमजी अस्पताल में शनिवार को नई ट्रू नेट मशीन स्थापित कर दी गई। इतना ही नहीं मशीन के आते ही जांच शुरू कर दी गई है। पहले दिन 12 लोगों के सैंपलों की जांच की गई और मात्र 45 मिनट में रिपोर्ट भी आ गई।

सात जून को आई ट्रू नेट मशीन एक सप्ताह पहले खराब हो गई थी। बार-बार शिकायत करने पर भी मशीन को ठीक करने कंपनी के इंजीनियर नहीं पहुंच रहे थे। आनन-फानन शासन स्तर से नई ट्रू नेट मशीन आवंटित की गई और लखनऊ से शुक्रवार की देर रात को ही एक वाहन के द्वारा मशीन को एमएमजी लाया गया। इस मशीन की जांच पहली बार में ही पुख्ता होगी। इसकी जांच किट भी अलग से शासन द्वारा उपलब्ध कराई गई है। इस मशीन की रिपोर्ट की क्रॉस जांच नहीं करानी पड़ेगी। इससे दिन-रात सैंपलों की जांच होगी।

----

337 की हुई जांच, 12 पॉजिटिव एमएमजी अस्पताल में शनिवार को रैपिड एंटीजन किट से 337 लोगों की जांच की गई। हाथों हाथ आई रिपोर्ट में 12 लोगों की जांच पॉजिटिव आई है। पॉजिटिव आने वाले सभी लोगों को कोविड केयर सेंटर में भर्ती करा दिया गया है। सीएमएस ने बताया कि जांच तेज कर दी गई है। धीरे-धीरे जांच की संख्या बढ़ने से कोरोना संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकता है।

-----

नई ट्रू नेट मशीन पहली मशीन से बेहतर है। एंटीजन किट के साथ ही नई ट्रू नेट मशीन से दिन-रात जांच की जाएगी। तीन टीमें शिफ्टों में जांच करेंगी। पहले दिन 12 जांच हुई हैं। इनमें चार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मशीन को रूम नंबर-34 में स्थापित कराया गया है।

- डॉ. अनुराग भार्गव, सीएमएस एमएमजी जिला अस्पताल

----मदन पांचाल

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस