गाजियाबाद (जेएनएन)। सीबीआई कोर्ट ने एनआरएचएम घोटाला केस में दो पूर्व मंत्रियों सहित पांच आरोपियों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करने का आदेश दिया। यह आदेश आरोपियों के खिलाफ पेश की गई चार्जशीट पर संज्ञान लेने के बाद जारी किया गया है। आरोपियों को 16 नवंबर तक गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करने के लिए कोर्ट ने सीबीआई को निर्देश दिया है।

देखें तस्वीरें : लखनऊ में मायावती की रैली के बाद भगदड़ मची

आरोपी पूर्व स्वास्थ्य मंत्री अनंत मिश्रा उर्फ अंटू मिश्रा, पूर्व मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा, पूर्व विधायक आरपी जायवाल, कारोबारी रहीस आलम सिद्दिकी और महेंद्र पांडे के खिलाफ कुछ दिन पहले सीबीआई ने दूसरी चार्जशीट पेश की थी।चार्जशीट में पूर्व मंत्री अंटू मिश्रा पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने सीनियर 72 डॉक्टरों की अनदेखी करते हुए सीबी प्रसाद को डीपीओ के पद पर तैनाती दी थी।

सपा घमासानः विधायक तय करेंगे सपा का अगला मुख्यमंत्री

दवा कारोबारियों ने भी लाखों रुपये की रिश्वत ली थी। गौरतलब है कि पूर्व मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा बीएसपी सरकार में परिवार कल्याण मंत्री और अनंत मिश्रा स्वास्थ्य मंत्री के पद तैनात रहे हैं, जबकि आरपी जायवाल बीएसपी सरकार में देवरिया से एमएलसी थे।

मुजफ्फरनगर दंगा पीड़ित परिवारों के सदस्यों से मिले अखिलेश यादव

Posted By: Ashish Mishra