गाजियाबाद [आशुतोष गुप्ता]। नंदग्राम थाना क्षेत्र के बनवारी नगर के एक व्यक्ति के मोबाइल फोन पर साइबर अपराधियों ने एक नामी रेस्टाेरेंट की स्कीम एक थाली पर एक थाली फ्री का मैसेज भेजा। आरोपितों ने आर्डर करने के लिए लिंक भेजा। पीड़ित ने आर्डर करने के लिए लिंक खोला तो उसमें 10 रुपये के भुगतान का विकल्प आया। उन्होंने जैसे ही 10 रुपये का भुगतान किया तो उनके खाते से 1.52 लाख रुपये निकल गए। पीड़ित के मोबाइल पर मैसेज आने के बाद उन्हें ठगी का पता चला।

इसके बाद उन्हाेंने रिपोर्ट दर्ज कराई है।बनवारी नगर के रविंद्र कुमार का कहना है कि उनके पास मोबाइल पर एक मैसेज आया। जिसमें एक नामी रेस्टोरेंट की खाने की एक थाली लेने पर दूसरी थाली फ्री में देने की बात थी। आर्डर करने के लिए मैसेज में दिए गए नंबर पर संपर्क किया तो काल उठाने वाले ने लिंक भेजा और उनसे 10 रुपये का भुगतान करने के लिए कहा।

भुगतान करने के बाद उनके वाट्सएप पर बुकिंग आइडी और एक एप डाउनलोड का लिंक आया। आरोपितों ने उनसे एप डाउनलोड कर उसमें बुकिंग आइडी डालने को कहा। ऐसा करने पर उनके खाते से 1.52 लाख रुपये निकल गए। रविंद्र ने मामले की साइबर सेल में शिकायत कर नंदग्राम थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। साइबर सेल प्रभारी सौरभ विक्रम सिंह का कहना है कि रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है। 

उधर, विजयनगर थाना क्षेत्र की क्रासिंग रिपब्लिक की एक सोसायटी की रहने वाली महिला ने अपने पति व ससुर पर घर में घुसकर नकदी, जेवर व बैंक के दस्तावेज चोरी करने का आरोप लगाया है। आरोप है कि पति ने उनके ज्वाइंट खाते से उनका नाम हटवा दिया और खाते से 50 हजार रुपये भी निकाल लिए। महिला ने मामले में पति व ससुर पर रिपोर्ट दर्ज कराई है।

क्रासिंग रिपब्लिक की सुपरटेक सोसायटी की स्वाति का कहना है कि उनके पति सचिन मित्तल व ससुर अरुण कुमार लखनऊ में रहते हैं। वह नवंबर 2021 में उनके घर आए और तीन दिन रुके। आरोप है कि उनके ससुर और पति घर में से उनके 24 हजार रुपये, जेवर और बैंक के दस्तावेज चोरी करके ले गए।

Edited By: Pradeep Kumar Chauhan