जागरण संवाददाता, साहिबाबाद : कौशांबी थाना क्षेत्र की एक महिला अधिकारी का मोबाइल हैक करके उनके बेटे के स्कूल के वाट्सएप समूह पर अश्लील संदेश भेज गए हैं। पीड़िता ने इसकी पुलिस से शिकायत की है। रिपोर्ट दर्ज करके पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें- Ghaziabad News: कैसे शुरू करें स्वरोजगार बैंकों से ऋण स्वीकृति के बाद वितरण में रोड़े

महिला अधिकारी का बेटा थाना क्षेत्र के एक स्कूल में छठीं कक्षा का छात्र है। स्कूल के कार्य के लिए उसने मां के मोबाइल से एक वाट्सएप समूह से जुड़ा। उसमें एक लिंक आया, ताकि सभी बच्चे मिलकर प्रोजेक्ट पूरा कर सकें। शुक्रवार व शनिवार को वह वाट्सएप समूह में नहीं जुड़ पाया। बाद में साथियों ने बताया कि उसके मोबाइल से अश्लील संदेश आए हैं। उसकी शिक्षिका ने भी इसकी जानकारी दी। यह जानकार महिला अधिकारी के होश उड़ गए। उन्होंने आशंका जाहिर किया कि किसी ने उनका मोबाइल हैक करके ऐसा किया है।

उन्होंने कहा कि उनका मोबाइल नंबर देश के बड़े अधिकारियों के वाट्सएप समूह से भी जुड़ा है। वह बड़ी परियोजना पर काम कर रही हैं। मोबाइल हैक होने ने से उन्हें काफी समस्या हो सकती है। अधिकारियों के बीच में उनकी छवि खराब हो सकती है। पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि मामले में रिपोर्ट दर्ज की गई है। स्थानीय पुलिस व साइबर सेल मामले की जांच कर रहा है।

यह भी पढ़ें- Ghaziabad Ramlila: रामलीला के दौरान झूला टूटने से चार लोग घायल, हादसे के बाद मैदान में मची भगदड़

बरतें सावधानी

अकसर देखने में आता है कि साइबर अपराधी वाट्सएप, ई-मेल व अन्य इंटरनेट मीडिया के जरिये लिंक भेजते रहते हैं। उनमें तमाम लिंक ऐसे होते हैं जिसे खोलते ही मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटाप आदि रिमोट पर चला जाता है। साइबर अपराधी इन गैजेट्स को अपने कब्जे में ले लेते हैं। उसके बैंक खाते आदि से पैसे निकाल लेते हैं। संपर्क नंबर आदि लेकर अश्लील संदेश आदि भेजकर ब्लैकमेल करते हैं। इस वजह से बच्चों को मोबाइल आदि देते समय भली-भांति से समझा दें कि अनावश्यक रूप से आने वाले लिंक को न खोलें। किसी भी अनाधिकृत एप को डाउनलोड न करें।

Edited By: Versha Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट