गाजियाबाद, जेएनएन। गाजियाबाद नगर निगम (Ghaziabad Municipal Corporation) कर्मचारी बृहस्पतिवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे। पेयजल आपूर्ति और स्वच्छता कार्य जारी रहेगा। बाकी कार्य बंद रहेंगे। कर्मचारी संघ ने 15 मांगे अधिकारियों के समक्ष रखी थीं। उनमें से कोई मांग पूरी नहीं हुई।

नगर निगम कर्मचारी संघ के अध्यक्ष हरिंद्र नागर ने बताया कि सदन लिपिक विनोद त्यागी को मेयर ने गलत तरीके से कारण बताओ नोटिस दिया है। इस नोटिस को निरस्त नहीं किया गया। उद्यान विभाग के ठेका श्रमिकों को उपस्थित होने के बावजूद पूर्ण वेतन नहीं दिया जा रहा। आरोप लगाया कि कार्यकारिणी उपाध्यक्ष ने सुपरवाइजर तुलसीराम शर्मा से अभद्र व्यवहार किया।

कर्मचारियों के विरोध प्रकट करने के बावजूद इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई। कंप्यूटर ऑपरेटरों का वेतन बढ़ाने, सीएलसी कांट्रेक्टर द्वारा नगर निगम कर्मचारियों की उपस्थिति लेने की व्यवस्था पर विराम लगाने, 21 वाहन चालकों को समय से वेतन देने समेत विभिन्न मांगों पर ध्यान नहीं दिया गया। नगर आयुक्त दिनेश चंद्र का कहना है कि वह कर्मचारी संघ से बात करेंगे। हड़ताल नहीं होने दी जाएगी।

 

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप