गाजियाबाद [अवनीश मिश्र]। गाजियाबाद समेत पूरे उत्तर प्रदेश में आगामी 24 मई तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया है। इसी के साथ गाजियाबाद जिले में धारा-144 भी लागू है, लेकिन कुछ लोग हैं जो नियम तोड़कर खुद के साथ दूसरों की जान भी जोखिम में डाल रहे हैं। ताजा मामले में कोरोना के चलते लगाए गए कर्फ्यू के दौरान लिंक रोड थाना क्षेत्र के झंडापुर में मछली और मुर्गा बेच रहे दो दुकानदारों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हुई है। दोनों दुकानदारों पर मास्क नहीं पहनने और शारीरिक दूरी के नियम को तोड़ने का भी आरोप है। बता दें कि दोनों ही नियमों का उल्लंघन करने पर उत्तर प्रदेश में 1000 रुपये का चालान करने का प्रविधान है, जबकि दोबारा यही नियम तोड़ने पर 10,000 रुपये तक चालान किया जाता है।

गाजियाबाद के पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि क्षेत्र में कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने के लिए पुलिस लगातार गश्त कर रही है। नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि पाबंदी के बावजूद झंडापुर में शहनवाज और दिलशाद मछली और मुर्गा बेच रहे थे। भीड़ एकत्रित किए थे। मास्क नहीं पहने थे। शारीरिक दूरी के नियमों को तोड़ रहे थे। उपनिरीक्षक संजीव चौहान की तहरीर पर दोनों आरोपितों के खिलाफ कोविड अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज हुई है।

नहीं मान रहे लोग

कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए शासन-प्रशासन तमाम कवायदें कर रहा है। कोरोना कर्फ्यू लगा है। नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई की जा रही है, फिर भी कुछ लोग नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं। ऐसे लोगों की मनमानियों का खामियाजा नियम का पालन करने वालों को भी भुगतना पड़ सकता है। इसकी विभिन्न माध्यमों से लोग पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को शिकायत कर रहे हैं। नियमों को तोड़ने वालों का वीडियो व फोटो भेज रहे हैं। ऐसे लोगों पर कार्रवाई भी की जा रही है, लेकिन फिर भी कुछ लोग मानने को तैयार नहीं हैं।