गाजियाबाद, जागरण संवाददाता। सड़क हादसे में पत्नी दिव्यांग हो गई तो युवक ने दूसरी शादी कर ली। एक साल से मायके में रह रही पीड़िता को दो माह पहले पता चला कि पति ने दूसरी शादी कर ली है और उनके बच्चे भी हैं। थाना नंदग्राम पुलिस ने पति, सास व ससुर के खिलाफ केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

दहेज की मांग को लेकर ससुराल वाले करते थे परेशान

महिला के मुताबिक उनकी शादी फरवरी-2015 में हुई थी। एक लाख रुपये और बुलेट बाइक की मांग को लेकर ससुराल वाले परेशान करते थे। जून-2015 में हादसे में घायल होने के बाद वह कोमा में चली गईं और दायें पैर में भी समस्या आ गई।

हकीम से इलाज कराने के कारण पैर नहीं कर रहा था काम

आरोप है कि हकीम से इलाज कराने के कारण पैर ने पूरी तरह काम करना बंद कर दिया। धीरे-धीरे उनके दोनों हाथ और दोनों पैर भी निष्क्रिय हो गए, जिस कारण एक साल पहले भाई उन्हें मायके ले आया और महिला थाना में पति ने इलाज का खर्च देने की हामी भरी, लेकिन पैसे नहीं दिए।

पता चलने पर पुलिस के पास पहुंची पीड़िता

अब मामला कोर्ट में है। दो माह पूर्व उनके स्वजन मुरादनगर स्थित ससुराल गए तो यहां पति के दूसरी शादी करने के बारे में पता चला, जो तीन साल पहले की गई थी। पीड़िता ने बिना तलाक लिए दूसरी शादी करने का आरोप लगा एसएसपी से शिकायत की थी, जिसके आधार पर केस दर्ज किया गया है।

वहीं पति आरोपों से इन्कार कर कहा कि वह इलाज करा रहे थे। मायके वाले उनकी पत्नी को जबरन अपने साथ ले गए हैं।

Edited By: Abhishek Tiwari