गाजियाबाद/लोनी, जागरण संवाददाता। देश की राजधानी दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में आत्महत्या और हत्या का हैरान करने वाला मामला सामने आया है। गाजियाबाद के लोनी इलाके में पहले महिला ने अपने 2 बच्चों की हत्या की फिर खुद भी जान दे दी। जागरण संवाददाता से मिली जानकारी के मुताबिक,  बॉर्डर थाना क्षेत्र की उत्तरांचल विहार कॉलोनी में महिला प्रिया मलिक ने अपनी 5 वर्षीय बेटी और 40 दिन के बेटे की गला दबा कर हत्या कर दी, इसके बाद खुद भी फांसी लगाकर जान दे दी। घटना के समय महिला के पति अरविंद मलिक दूध लेने के लिए गए थे।

8 साल पहले की थी लव मैरिज

मूल रूप से झाल, जिला शामली के रहने वाले अरविंद प्रॉपर्टी डीलर का काम करते हैं। करीब आठ वर्ष पूर्व अरविंद और प्रिया ने प्रेम विवाह किया था। पुलिस घटना के कारणों की जांच कर रही है।

महिला की स्थिति थी सामान्य

पड़ोसियों की मानें तो प्रिया मलिक सामान्य थी। उसे कोई मानसिक परेशानी भी नहीं थी। कहा तो यह भी जा रहा है कि पति-पत्नी में अनबन रहा करती थी, इसलिए प्रिया ने यह हैरान करने वाला कदम उठाया।

बालकनी से फेंकी शराब की बोतल, बच्चे का सिर फटा

वहीं, एक अन्य मामले में वैशाली सेक्टर-एक स्थित एक्सप्रेस ग्रीन सोसायटी में बालकनी से फेंकी गई शराब की बोतल लगने से चार साल के बच्चे का सिर फट गया। स्वजन ने उसे पास के निजी अस्पताल में भर्ती कराया। उसके सिर में छह टांके लगे। पुलिस बोतल फेंकने वाले व्यक्ति के बारे में जानकारी जुटा रही है। एक्सप्रेस ग्रीन सोसायटी में बच्चों के खेलने के लिए एक स्थान तय है। शनिवार को बच्चे वहां खेल रहे थे। रात करीब आठ बजे किसी फ्लैट की बालकनी से खाली शराब की बोतल फेंकी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बोतल को अपने कब्जे में ले लिया। घटना स्थल से संबंधित फ्लैटों में जाकर जांच-पड़ताल की। ब्रीद एनालाइजर नहीं होने से पुलिस को दिक्कत हुई। पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय गाजियाबाद ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि मामले की जांच हो रही है।

 

Edited By: Jp Yadav